मासिक करेंट अफेयर्स

29 October 2020

CAT 2020: एडमिट कार्ड हुए जारी, 29 नवंबर को होगी परीक्षा

कॉमन एडमिशन टेस्ट (CAT 2020) की परीक्षा 29 नवंबर को आयोजित की जानी है. इस बार की कैट परीक्षा के आयोजक इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट, इंदौर (Indian Institutes of Management, Indore) है. लंबे समय से छात्र परीक्षा के एडमिट कार्ड का इंतजार कर रहे थे. बता दें, एडमिट कार्ड आधिकारिक वेबसाइट iimcat.ac.in पर जारी कर दिया है. 
बता दें, कैट की प्रवेश परीक्षा देश भर के अलग-अलग प्रतिष्ठित बिजनेस स्कूल में दाखिले के लिए आयोजित की जाती है. यह एक पोस्ट ग्रेजुएट स्तरीय प्रवेश परीक्षा होती है. परीक्षा पास करने बाद

पीएम मोदी ने गुजरात में तीन प्रमुख परियोजनाओं का उद्घाटन किया

पीएम मोदी ने 24 अक्टूबर 2020 को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए गुजरात में तीन परियोजनाओं का उद्घाटन किया है. प्रधानमंत्री मोदी ने राज्य के किसानों के लिए 'किसान सूर्योदय योजना' की शुरुआत की है. इसके अतिरिक्त जूनागढ़ में गिरनार रोपवे तथा अहमदाबाद स्थित यू. एन. मेहता कार्डियॉलजी इंस्टिट्यूट ऐंड रिसर्च सेंटर से संबंद्ध पीडियाट्रिक हार्ट हॉस्पिटल का भी उद्घाटन किया है. 
मोदी ने इस मौके पर कहा कि आज किसान सूर्योदय योजना, गिरनार रोपवे और देश के बड़े और आधुनिक कार्डियो हॉस्पिटल गुजरात को मिल रहे हैं. ये तीनों एक प्रकार से गुजरात की शक्ति, भक्ति, स्वास्थ्य के प्रतीक हैं. इन सभी के लिए गुजरात के लोगों को बहुत-बहुत बधाई देता हूं.

एमी कोनी बैरेट बनीं अमेरिकी सुप्रीम कोर्ट की जज

अमेरिकी राष्ट्रपति पद के चुनाव से लगभग एक सप्ताह पहले 26 अक्टूबर 2020 को अमेरिकी सीनेट में सुप्रीम कोर्ट के नए जज के लिए वोटिंग की गई. इस वोटिंग में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप द्वारा नामित एमी कोनी बैरेट ने जीत दर्ज की और अमेरिकी सुप्रीम कोर्ट की नई जज बन गईं. अमेरिकी सीनेट ने वोटिंग के बाद उनकी जीत की पुष्टि की है. 
अमेरिकी राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव होने में बहुत ही कम समय रह गया है. जज एमी कोनी बैरेट ने 27 अक्टूबर 2020 को अमेरिकी सुप्रीम कोर्ट की न्यायाधीश के रूप में शपथ ली. न्यायाधीश एमी कोनी बैरेट ने राष्ट्रपति ट्रंप की मौजूदगी में व्हाइट हाउस में शपथ ली. उन्हें सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस क्लेरेंस थॉमस ने शपथ दिलाई.

कोविड -19 को रोकने के लिए बांग्लादेश सरकार ने दिया ‘नो मास्क, नो सर्विस’ नीति का आदेश

बांग्लादेश की सरकार ने मौजूदा कोविड -19 महामारी को रोकने के लिए ‘नो मास्क, नो सर्विस’ नीति शुरू की है. इन आदेशों के अनुसार, ऐसे लोगों को कोई सेवा प्रदान नहीं की जाएगी, जिन्होनें मास्क नहीं पहना होगा. 
बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना की अध्यक्षता में हुई मंत्रिमंडल की एक बैठक में यह निर्णय लिया गया है कि, किसी भी व्यक्ति को बिना मास्क के कार्यालयों में प्रवेश करने की अनुमति नहीं दी जाएगी. यह भी तय किया गया है कि, देश में वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने के लिए, देश के सभी कार्यालयों को 'नो मास्क, नो सर्विस' का उल्लेख करते हुए एक नोटिस बोर्ड लगाना होगा.

22 October 2020

केंद्र सरकार ने आयुष्मान सहकार योजना लांच की

केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने 19 अक्टूबर 2020 को सहकारी समितियों द्वारा स्वास्थ्य सेवा का बुनियादी ढांचा बनाने के लिए 10 हजार करोड़ रुपये का एनसीडीसी आयुष्मान सहकार फंड लॉन्च किया है. राष्ट्रीय सहकारी विकास निगम कोष (एनसीडीसी) स्वास्थ्य सेवाओं को बढ़ावा देगा. इस योजना के अंतर्गत एनसीडीसी सहकारी समितियों को 10 हजार करोड़ रुपये का ऋण बांटेगी और समितियां उससे स्वास्थ्य सुविधाएं स्थापित करेंगी. सरकारी चिकित्सा तंत्र को मजबूती प्रदान करने के साथ-साथ सरकार ने सहकारी संस्थाओं को भी मेडिकल कॉलेज और अस्पताल खोलने की अनुमति देने का फैसला किया है.

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने असम में पहले मल्टी मॉडल लॉजिस्टिक पार्क का शिलान्यास किया

केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री, नितिन गडकरी ने इस 20 अक्टूबर, 2020 को असम में भारत के पहले मल्टी-मॉडल लॉजिस्टिक पार्क की आधारशिला रखी. 
इस मल्टी मॉडल लॉजिस्टिक पार्क की नींव रखने के कार्यक्रम में असम के मुख्यमंत्री, सर्बानंद सोनोवाल; डॉ. जितेंद्र सिंह, केंद्रीय राज्य मंत्री; जनरल (सेवानिवृत्त) रामेश्वर तेली और वी.के. सिंह के साथ ही असम के कई अन्य मंत्रियों ने भी भाग लिया. इस अवसर पर नितिन गडकरी ने कहा कि, असम में बुनियादी ढांचे के विकास के लिए आवश्यक कदम उठाए गए हैं. उन्होंने यह

केंद्र सरकार ने 30 लाख से अधिक सरकारी कर्मचारियों को दिवाली बोनस देने की घोषणा की

केंद्र सरकार ने सरकारी कर्मचारियों के लिए बड़ा घोषणा किया है. केंद्र सरकार ने 30 लाख से अधिक सरकारी कर्मचारियों को दिवाली बोनस देने की घोषणा की है. ये फैसला 21 अक्टूबर 2020 को हुई मोदी कैबिनेट की बैठक में लिया गया. 
कैबिनेट के फैसलों की जानकारी देते हुए केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि डायरेक्ट बेनेफिट ट्रांसफर के जरिए सीधे कर्मचारियों के खातों में पैसे ट्रांसफर किए जाएंगे. उन्होंने बताया कि तुरंत पैसे ट्रांसफर करने का आदेश दे दिया गया है. इस निर्णय से 30.67 लाख गैर-राजपत्रित सरकारी कर्मचारियों को फायदा होगा.

12 October 2020

पीएम मोदी ने स्वामित्व योजना लांच की

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 11 अक्टूबर 2020 को लोकनायक जयप्रकाश नारायण और नानाजी देशमुख की जयंती पर स्वामित्व योजना की शुरुआत की है. प्रधानमंत्री ने इस मौके पर कहा कि आज आपके पास एक अधिकार है, एक कानूनी दस्तावेज है कि आपका घर आपका ही है, आपका ही रहेगा. 
पीएम मोदी ने इस मौके पर लोकनायक जयप्रकाश नारायण और नानाजी देशमुख को भी याद किया और कहा कि इन दोनों महापुरुषों का सिर्फ जन्मदिन ही एक तारीख को नहीं पड़ता, बल्कि इनके संघर्ष और आदर्श भी एक समान रहे हैं. उन्होंने कहा कि गांव और गरीब की आवाज़ को बुलंद करना जेपी और नानाजी के जीवन का साझा संकल्प रहा है.

02 October 2020

रक्षा मंत्रालय ने 2,290 करोड़ रुपये के सैन्य उपकरणों की खरीद को मंजूरी दी

रक्षा मंत्रालय ने 28 सितम्बर 2020 को 2,290 करोड़ रुपये के हथियार एवं सैन्य उपकरणों की खरीद को मंजूरी दे दी है. इसमें अमेरिका से लगभग 72,000 सिग सॉअर असॉल्ट राइफलों की खरीद भी शामिल है. रक्षा मंत्रालय चीन के साथ एलएसी पर बढ़ते तनाव के बीच लगातार बड़े फैसले ले रहा है. 
रक्षा खरीद संबंधी निर्णय लेने वाली रक्षा मंत्रालय की सर्वोच्च समिति रक्षा अधिग्रहण परिषद (डीएसी) की बैठक में इन खरीद प्रस्तावों को मंजूरी दी गई. रिपोर्ट के अनुसार, डीएसी ने जिन उपकरणों और हथियारों की खरीद को मंजूरी दी है उनमें राइफलों के अलावा वायुसेना एवं नौसेना के लिए करीब 970 करोड़ रुपये में एंटी-एयरफील्ड वेपन (एसएएडब्ल्यू) प्रणाली शामिल हैं.

स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने किया ICMR के वैक्सीन वेब पोर्टल और कोविड -19 हेतु राष्ट्रीय नैदानिक रजिस्ट्री का शुभारंभ

केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने 28 सितंबर, 2020 को ICMR (इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च) वैक्सीन वेब पोर्टल और कोविड -19 के लिए राष्ट्रीय नैदानिक ​​रजिस्ट्री (नेशनल क्लिनिकल रजिस्ट्री) का शुभारंभ किया. 
इस अवसर पर, वैक्सीन वेब पोर्टल के महत्व के बारे में बात करते हुए केंद्रीय मंत्री ने उन लोगों की उत्सुकता को स्वीकार किया, जो कोरोना वायरस वैक्सीन के विकास के बारे में अधिक जानना चाहते हैं. डॉ. हर्षवर्धन ने यह आश्वासन दिया कि, कोविड -19 वैक्सीन विकास के बारे में सभी जानकारियां सरल और पारदर्शी तरीके से प्रदान की जाएंगी.