मासिक करेंट अफेयर्स

25 September 2017

भारतीय अर्थव्यवस्था वित्तीय वर्ष 2017-18 में 6.7 प्रतिशत की रफ्तार से बढ़ेगी: ओईसीडी

शोध संस्थान ओईसीडी का अनुमान है कि इस वित्तीय वर्ष में भारतीय अर्थव्यवस्था 6.7 प्रतिशत की रफ्तार से वृद्धि करेगी. पेरिस के इस शोध संस्थान ओईसीडी के मुताबिक वृद्धि दर में गिरावट की वजह जीएसटी और नोटबंदी का क्षणिक प्रभाव रहा. आर्थिक सहयोग तथा विकास संगठन ओईसीडी ने आगामी वित्तीय वर्ष 2018-19 के लिये भी अपने अनुमान को संशोधित करते हुये देश की वृद्धि दर 7.2 प्रतिशत रहने का अनुमान लगाया है. पहले इस अवधि के लिये जून में सकल घरेलू उत्पाद जीडीपी की वृद्धि दर 7.7 प्रतिशत आंकी गयी थी.

ओईसीडी के अंतरिम आर्थिक परिदृश्य के मुताबिक 2017-18 में, भारत की वृद्धि दर 6.7 प्रतिशत रहने का अनुमान है, जबकि जून में इसके 7.3 प्रतिशत रहने का अनुमान लगाया गया था. रपट में कहा गया, नोटबंदी और जीएसटी के क्षणिक प्रभाव की वजह से 2017 के विकास अनुमानों को कम करना पड़ा है. वहीं कारोबारी निवेश भी कमजोरी बरकरार है. रपट में आगे कहा गया है कि लंबे अंतराल में जीएसटी से विकास, उत्पादन और निवेश में बढ़ोारी आने की उम्मीद है.

No comments:

Post a comment