भारत के अंकुर मित्तल ने आईएसएसएफ विश्व शाटगन चैंपियनशिप की पुरुष डबल ट्रैप स्पर्धा में रजत पदक जीता. जूनियर वर्ग में 17 साल के अहवर रिज्वी भी इसी स्पर्धा में रजत पदक जीतने में सफल रहे. पुरुष वर्ग में मित्तल ने 66 अंक जुटाए। वह अंतिम चार शाट तक बढ़त बनाए हुए थे लेकिन इसके बाद रूस के विताली फोकीव आगे निकल गए और अंतत: 68 अंक के साथ स्वर्ण पदक जीतने में सफल रहे. मित्तल क्वालीफायर में 145 अंक के साथ शीर्ष पर रहे थे. संग्राम दहिया ने क्वालीफाइंग राउंड में 135 अंक के साथ 20वां जबकि मोहम्मद असब ने 133 अंक के साथ 23वां स्थान हासिल किया. ये तीनों टीम वर्ग में 413 अंक के साथ पांचवें स्थान पर रहे. इटली ने 418 अंक के साथ स्वर्ण पदक जीता.
जूनियर पुरुष डबल ट्रैप स्पर्धा में रिज्वी ने शूट आफ की लय को बरकार रखते हुए फाइनल में शानदार प्रदर्शन किया. वह अंतिम दो शाट तक बढ़त बनाए हुए थे लेकिन फिर ब्रिटेन के जेम्स डेडमान से पिछड़ गए. रिज्वी ने 80 लक्ष्य में 66 अंक जुटाए. जेम्स ने 67 अंक हासिल किए. शारदुल फाइनल में जगह बनाने वाले छह निशानेबाजों में सबसे पहले बाहर हुए. उन्होंने पहले 30 शाट में 19 अंक जुटाए. इटली छह स्वर्ण सहित कुल 11 पदक के साथ शीर्ष पर चल रहा है. भारत एक स्वर्ण और दो रजत के साथ चौथे स्थान पर है.