अरुणाचल प्रदेश के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री जोमदे केना का लंबी बीमारी के बाद गुवाहाटी के एक निजी अस्पताल में निधन हो गया. वह निम्न सियांग जिले के गेंसी गांव के रहने वाले थे और उनका पिछले एक महीने से गुवाहाटी में इलाज चल रहा था. लिकाबाली निर्वाचन क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करने वाले केना वर्ष 2004 में पहली बार विधानसभा सभा में निर्वाचित हुए थे. वह वर्ष 2009 और 2014 में इसी निर्वाचन क्षेत्र से सदन में निर्वाचित हुए. केना को नबम टुकी सरकार के दौरान उपाध्यक्ष चुना गया. उन्होंने दोर्जी खांडू तथा जारबोम गैमलिन के मंत्रालयों में संसदीय सचिव की भूमिका निभाई.
 
मुख्यमंत्री पेमा खांडू ने केना के निधन पर शोक और दुख जताया. एक आधिकारिक बैठक के लिए राष्ट्रीय राजधानी में मौजूद खांडू ने शोक संतप्त परिवार के सदस्यों और लोगों के लिए गहरी संवेदनाएं व्यक्त की. एक संदेश में उन्होंने कहा, उनके निधन से हमारे राज्य ने एक अनुभवी नेता खो दिया और मैंने एक बड़ा भाई खो दिया जो एक दोस्त से बढ़कर थे. संदेश में कहा गया है, लोगों की ओर से मैं उनके परिवार के सदस्यों, दोस्तों और शुभचिंतकों को गहरी संवदेनाएं व्यक्त करता हूं. मैं उनकी आत्मा की शांति की प्रार्थना करता हूं.