मासिक करेंट अफेयर्स

27 September 2017

केंद्र सरकार ने ‘’दिव्‍यांग सारथी’’ एप का शुभारंभ किया

सामाजिक न्‍याय और आधिकारिता मंत्री श्री थावरचंद गहलोत ने 26 सितम्बर को ‘’दिव्‍यांग सारथी’’  मोबाइल एप के बीटा संस्‍करण का उद्घाटन किया. इसके माध्‍यम से दिव्‍यांगजनों को आसानी से जानकारी जानकारी मिल सकेगी. इस अवसर पर श्री गहलोत ने कहा कि यह मोबाइल एप्लीकेशन ‘दिव्‍यांगजनों’ को सशक्‍त बनाने के लिए प्रेरित करेगा ताकि उन्‍हें आसान और सुविधाजनक सूचना मिल सके. इससे उन्‍हें एक बटन दबाकर योजनाओं, छात्रवृत्तियों, प्रणाली से संबंधित संस्‍थागत सहायता और अन्‍य महत्वपूर्ण प्रासंगिक जानकारियां प्राप्‍त हो सकेंगी.

इस मोबाइल एप्लीकेशन का उद्देश्‍य, सामाजिक न्‍याय और आधिकारिता मंत्रालय के दिव्‍यांगजन सशक्तिकरण विभाग से संबंधित विभिन्‍न उपयोगी जानकारियों जैसे विभि‍न्‍न नियमों, दिशा-निर्देशों, योजनाओं, रोजगार संबंधी अवसरों के बारे में दिव्‍यांगजनों को सरल प्रारूप में जानकारी उपलब्‍ध कराना है. इस एप्लीकेशन को दिव्‍यांगजन सशक्तिकरण विभाग के दो सहायक सचिवों (श्री अनुनय झा और श्रीमती बी सुशीला) द्वारा तैयार गया है.

2011 की जनसंख्‍या के अनुसार भारत में 2.68 करोड़ से अधिक ‘दिव्‍यांगजन’ हैं, जो कुल जनसंख्‍या के 2.2 प्रतिशत से अधिक हैं. मोबाइल एप्लीकेशन ‘दिव्‍यांगसारथी’ को यूनिवर्सल एक्‍सेस के यूएनसीआरपीडी के सिद्धांतों और दिव्‍यांगजनों के अधिकार अधिनियम 2016 के प्रावधानों के अनुरूप तैयार किया गया है. इस अधिनियम में यह प्रावधान है कि सभी जानकारियों को एक सरल प्रारूप में उपलब्‍ध कराई जानी चाहिए. यह एप्लीकेशन प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी द्वारा 3 दिसम्बर 2015 का शुरू किए गए सुगम्‍य भारत अभियान के आईसीटी घटक का एक अभिन्‍न हिस्‍सा है.

‘दिव्‍यांग सारथी’ मोबाइल एप की मुख्‍य विशेषताएं इसके ओडियो नोट्स हैं, जो लिखित जानकारी को ओडियो फाइल में परिवर्तित करते हैं और साथ ही उपयोगकर्ता की आवश्‍यता के अनुसार फॉंट का आकार भी बदल सकते हैं. इस मोबाइल एप्लीकेशन को दोनों भाषाओं हिन्‍दी तथा अंग्रेजी के अनुरूप तैयार किया गया है. इस एप्लीकेशन को किसी भी एंड्रॉयड स्‍मार्ट फोन के जरिये डाउनलोड किया जा सकता है. इसे वह व्‍यक्ति भी इस्‍तेमाल कर सकता है, जिसके पास इंटरनेट की सुविधा नहीं है. यह मोबाइल एप डाउनलोड के लिए गूगल प्‍ले स्‍टोर में उपलब्‍ध रहेगा.

No comments:

Post a comment