मासिक करेंट अफेयर्स

07 October 2017

नोबेल पुरस्कार 2017: जापानी मूल के ब्रिटिश लेखक काजुओ इशीगुरो को साहित्य का नोबेल

स्वीडिश एकेडमी ने साहित्य के नोबेल पुरस्कार विजेता की घोषणा कर दी गई है. जापानी मूल के ब्रिटिश लेखक काजुओ इशीगुरो को इस साल का साहित्य का नोबेल दिया जाएगा. आठ किताबें लिख चुके इशीगुरो ने 'रीमेंश ऑफ द डे' से वैश्विक स्तर पर ख्याति अर्जित की थी. इस उपन्यास पर हॉलीवुड फिल्म भी बन चुकी है. फिल्म को ऑस्कर के लिए नामांकित किया गया था. उन्हें वर्ष 1989 में बुकर अवार्ड से नवाजा गया था.

स्वीडिश एकेडमी ने गुरुवार को विजेता के नाम का एलान किया. उन्हें 11 लाख डॉलर (करीब 7.15 करोड़ रुपये) नकद के अलावा प्रतीक चिह्न प्रदान किया जाएगा. इशीगुरो पांच साल की उम्र में अपने माता-पिता के साथ नागासाकी से ब्रिटेन आए थे. एकेडमी की स्थायी सचिव सारा डेनियस ने कहा कि वह ब्रिटिश उपन्यासकार जेन ऑस्टिन और जर्मन भाषा के लघु कथाकार फ्रैंज काफ्का का मिश्रण हैं. इन दोनों की सृजनात्मक क्षमता और समझ को मिलाने पर इशीगुरो का चेहरा सामने आता है. इशीगुरो ने 1980 के दशक से 'ए पेल व्यू ऑफ द हिल्स' के जरिये साहित्य जगत में अपनी मौजूदगी दर्ज करानी शुरू की थी. 'रीमेंश ऑफ द डे' ने उन्हें दुनिया भर में ख्याति दिलाई थी. इस पर बनी फिल्म में एंथनी हॉपकिंस और एम्मा थॉम्पसन ने अभिनय किया था. यह उपन्यास एक बटलर की कहानी पर आधारित है. इशीगुरो फिल्म और टीवी शो के लिए स्क्रिप्ट भी लिख चुके हैं.

वर्ष 2016 का साहित्य नोबेल गायक और गीतकार बॉब डिलन को देने पर विवाद हो गया था. साहित्य लेखकों की बिरादरी ने उन्हें साहित्यकार नहीं माना था. साहित्य के क्षेत्र में 1901 से 2017 के बीच 110 नोबेल पुरस्कार दिए जा चुके हैं, जिसमे से 14 महिला लेखकों को यह पुरस्कार मिला है. साहित्य के क्षेत्र में 41 वर्ष की उम्र में रुडयार्ड किपलिंग नोबेल जीतने वाले सबसे युवा लेखक है वही 88 वर्ष की उम्र में पुरस्कार जीतने वाली डोरिस लेसिंग सबसे उम्रदराज विजेता है.

No comments:

Post a comment