मासिक करेंट अफेयर्स

05 October 2017

राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण ने नई वेबसाइट और पीएमआईएस मोबाइल एप लॉन्च किया

राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री दीपक कुमार ने  संगठन की विश्‍वस्‍तरीय नई बहुभाषी वेबसाइट लॉन्च की है. इस अवसर पर उन्होंने कहा कि दो महीने के भीतर आम लोग इस वेबसाइट के माध्यम से राष्ट्रीय राजमार्गों की रेटिंग कर पाएंगे. इस अवसर पर उन्होंने एक प्रोजेक्ट मॉनिटरिंग इन्फॉर्मेशन सिस्टम (पीएमआईएस) मोबाइल एप भी लॉन्च किया जो मोबाइल फोन पर राष्ट्रीय राजमार्गों से संबंधित परियोजनाओं की इन-हाउस मॉनिटरिंग की सुविधा प्रदान करेगा. श्री दीपक कुमार ने कहा कि एनएचएआई जल्द ही पीएमआईएस डेस्कटॉप और एप संस्करणों का एक सार्वजनिक इंटरफेस लॉन्च करने की योजना बना रहा है, ताकि आम जनता राजमार्ग नेटवर्क के किसी भी परियोजना की वास्तविक समय स्थिति को देख सकें.

एनएचएआई की वेबसाइट को अत्‍याधुनिक प्रौद्योगिकियों का उपयोग कर तैयार किया गया है और यह एक केन्द्रियकृत मंच प्रदान करता है. इसमें एनएचएआई के विभिन्‍न सॉफ्टवेयर और एप्लिकेशन एक दूसरे से जुड़े हुए हैं तथा उपयोगकर्ताओं के अनुकूल प्रयोग करने के लिए उपलब्‍ध हैं. वेबसाइट में संस्‍थान, एचआर, परियोजनाओं, नीतियों, वीडियो और परियोजना के फोटोग्राफ के बारे में पूरी जानकारी है. पारदर्शिता बनाए रखने के लिए जानकारी को सार्वजनिक किया गया है. इसके अलावा सभी प्रासंगिक सूचनाओं का वर्णन भी वेबसाइट पर बिन्‍दुवार दिया गया है.

अपनी परियोजनाओं को समय पर पूरा करने के लिए एनएचएआई ने एक अत्‍याधुनिक प्रोजेक्ट मॉनिटरिंग इन्फॉर्मेशन सिस्टम (पीएमआईएस) विकसित किया है. इसके माध्‍यम से वह डिजिटल रूप से इनकी निगरानी कर रहा है. इसे बोस्टन कंसल्टिंग ग्रुप के साथ मिलकर तैयार किया गया है. पीएमआईएस के पास बड़ी संख्‍या में आंकड़े हैं, जिसमें प्रत्‍येक परियोजना से संबंधित 180 से अधिक डेटा संबंधी क्षेत्रों का पता किया जा सकता है तथा पीपीपी परियोजना के लिए 500 फील्‍ड से संबंधित, परियोजनाओं की प्रगति, भूमि अधिग्रहण, अनुबंध की प्रगति, निर्माण की प्रगति, मुआवजा वितरण, टोल और यातायात,रियायत/अनुबंध संबंधी जानकारी उपलब्‍ध रहेगी.

राष्‍ट्रीय, क्षेत्रीय स्‍तर के कार्यालय (आरओ), चालू परियोजना (पीआईयू) और परियोजना स्‍तर के डेटा की जानकारी उपलब्‍ध कराने के लिए डैशबोर्डस की एक श्रृंखला तैयार की है. इन डैशबोर्डों में हर परियोजना की अलग-अलग जानकारी उपलब्‍ध कराई जाएगी, जिसकी जिम्‍मेदारी परियोजना निदेशक की होगी और नियमित तौर पर इसकी निगरानी एनएचएआई के अध्‍यक्ष और एनएचएआई के सदस्‍यों द्वारा की जाएगी. डैशबोर्ड डेटा के अलावा पीएमआईएस भौगोलिक सूचना प्रणाली (जीआईएस) से सुसज्जित है, जो भारतीय नक्‍शे पर एनएचएआई की सभी परियोजनाओं की चित्र सहित भौगोलिक जानकारी प्रदान करता है.

पीएमआईएस तक पहुंचकी सुविधा प्रदान करने के लिए, जो अभी तक डेस्‍कटॉप संस्‍करण के रूप में उपलब्‍ध है, अब एनएचएआई ने पीएमआईएस एप भी लांच किया है, जिसे बोस्‍टन कंसल्टिंग ग्रुप के सहयोग से तैयार किया जा रहा है. यह एप एंड्रॉइड और एप्‍पल दोनों संस्‍करणों में उपलब्‍ध रहेगा और फील्‍ड तथा मुख्‍यालय में काम करने वाले सभी अधिकारियों तक इसकी पहुंच होगी. इस एप में दो अतिरिक्‍त सुविधाएं भी प्रदान कीगई हैं, जिसमें एक टास्‍क मैनेजर है और दूसरा फोटो अपलोड करने की सुविधा प्रदान करने वाला फीचर, जिसके माध्‍यम से परियोजना निदेशक फोटो खींचकर पीएमआईएसपर परियोजना की नवीनतम जानकारी उपलब्‍ध करा सकेंगे.

No comments:

Post a comment