मासिक करेंट अफेयर्स

24 October 2017

जापान में पीएम मोदी के दोस्त शिंजो आबे ने शानदार जीत दर्ज की

Add caption
जापान के मध्यावधि चुनाव में प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने एक बार फिर शानदार जीत कर सत्ता में वापसी की है. जापान में हुए आम चुनाव में शिंजो आबे की पार्टी को बड़ी जीत मिली है. 22 अक्टूबर 2017 को संपन्न हुए मतदान में आबे की लिबरल डैमोक्रेटिक पार्टी (एलडीपी) वाले गठबंधन ने सुपर मेजोरिटी यानी दो-तिहाई बहुमत यानि 312 सीटें प्राप्त की. बता दे की जापान में यह 48वां आम चुनाव है. द्विसदनीय जापानी संसद (डायट) के निचले सदन हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव के लिए चार साल पर चुनाव होता है. हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव की कुल संख्या 465 है और बहुमत का आंकड़ा 233 है.

जापान के प्रधान मंत्री शिंजो आबे ने विश्व की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था को पुनर्जीवित करने और उत्तर कोरिया के खिलाफ कड़ा रुख अपनाने के लिए नया जनादेश पाने को तय समय से एक साल पहले ही चुनाव कराया. इस भारी जीत के साथ दिसंबर 2012 में पदभार ग्रहण करने वाले शिंजो आबे अगले सितंबर में एलडीपी नेता के रूप में तीसरे तीन साल का कार्यकाल सुरक्षित कर लिया है. 

इसके साथ ही वे जापान के सबसे लंबे समय तक रहने वाले प्रधानमंत्री बन जाएंगे. इसका अर्थ यह भी है कि उनकी "एबनिओमिक्स" वृद्धि की रणनीति जो कि हाइपर-आसान मौद्रिक नीति है इसकी संभावनाएं जारी रहेंगी. जापान में 22 अक्टूबर 2017 स्थानीय समय के अनुसार 7 बजे मतदान शुरू हुआ और रात 8 बजे तक चला. पश्चिमी जापान के कोचि में भूस्खलन की वजह से 20 मिनट देरी से मतदान शुरू हुआ. तूफान के मार्ग में पड़ने वाले दक्षिणी द्वीप पर एक दिन पहले ही शनिवार को लोगों ने मतदान किया.

No comments:

Post a comment