मासिक करेंट अफेयर्स

01 November 2017

सउदी अरब में महिलाओं को स्टेडियम में प्रवेश की अनुमति प्रदान की गई

सऊदी अरब में महिलाओं को ड्राइविंग करने के बाद अब स्‍पोर्ट्स स्‍टेडियम में भी एंट्री मिल गई है. अब तब सऊदी अरब में महिलाएं पर किसी भी स्‍पोर्ट्स स्‍टेडियम में दाखिल होने पर प्रतिबंध हैं. लेकिन अगले साल यानि 2018 से अब सऊदी की महिलाएं भी स्‍टेडियम में जाकर खेलों का लुत्‍फ उठा सकती हैं. दुनियाभर में सऊदी ऐसे देशों में शामिल है, जहां महिलाओं पर सबसे ज्यादा प्रतिबंध हैं. यहां खेल के मैदानों से महिलाओं को लंबे समय से दूर रखा गया है. लेकिन नए आदेश के मुताबिक, महिलाएं भी आने वाले समय में खेलों के मैदान में जा सकेंगी. यह घोषणा शक्तिशाली क्राउन प्रिन्स मोहम्मद बिन सलमान के महत्वपूर्ण महत्वाकांक्षी सुधारों में से एक है. कुछ समय पहले प्रिंस ने महिलाओं के ड्राइविंग करने पर लगे प्रतिबंध को भी हटा दिया. जून 2018 से महिलाएं भी सऊदी अब में खुद ड्राइविंग कर सकेंगी.

जनरल स्पोर्ट्स अथॉरिटी ने ट्विटर पर कहा, 'रियाद, जेद्दा और दम्‍मान में तीन स्टेडियमों में पूरे परिवार को एंट्री देने की व्‍यवस्‍था करने की तैयारी शुरू हो गई हैं. साल 2018 के आरम्भ तक ये स्‍टेडियम पूरी तरह से परिवारों की मेजबानी करने के लिए तैयार हो जाएंगे.' बताया जा रहा है कि स्टेडियमों के अंदर रेस्तरां, कैफे और मॉनिटर स्क्रीन लगाई जा रही है. बता दें कि पिछले महीने सैकड़ों महिलाओं को रियाद में एक स्पोर्ट्स स्टेडियम में प्रवेश करने की अनुमति दी गई थी, जो कि ज्यादातर फुटबॉल मैच के लिए थी, ये सऊदी अरब के राष्ट्रीय दिवस का मौका था.

सऊदी की संरक्षकता प्रणाली के अंतर्गत, परिवार का पुरुष सदस्य, जो आमतौर पर पिता, पति या भाई होता है, वह महिला को पढ़ने, यात्रा करने और अन्य गतिविधियों के लिए अनुमति देता है. लेकिन आर्थिक और सामाजिक सुधारों के मद्देनजर अपने 'विजन 2030' को पूरा करने के लिए अब महिलाओं को कुछ अधिकार दिए जा रहे हैं, जिसका उद्देश्य महिला रोजगार को बढ़ावा देना है.

No comments:

Post a comment