मासिक करेंट अफेयर्स

10 November 2017

बीमा पॉलिसी को आधार से जोड़ना हुआ अनिवार्य


बीमा नियामक एवं विकास प्राधिकरण (इरडा) ने कहा कि आधार को बीमा पॉलिसियों से जोड़ना अनिवार्य है। नियामक ने बीमा कंपनियों से इस सांविधिक नियमों का अनुपालन करने को कहा है. आईआरडीएआई ने कहा कि मनी लॉन्ड्रिंग प्रतिबंध कानून के तहत इसे अनिवार्य बनाया गया है. सरकार ने जून में अधिसूचना जारी कर कहा था कि बीमा सहित किसी भी वित्तीय सेवा का लाभ लेने के लिए आधार और पैन नंबर को जोड़ना अनिवार्य कर दिया था. पहले से चल रही बीमा पॉलिसी को भी आधार से जोड़ना होगा.

आईआरडीएआई ने जीवन बीमा और जेनरल इंश्योरेंस कंपनियों को विज्ञप्ति जारी कर कहा है कि यह वैधानिक रूप से सभी के लिए बाध्यकारी है और बिना अगली सूचना की प्रतीक्षा किए इसे तुरंत लागू करें. इरडा ने बयान मे कहा कि मनी लांड्रिंग रोधक (रिकार्ड का रखरखाव) दूसरा संशोधन नियम, 2017 के तहत आधार नंबर को बीमा पॉलिसियों से जोड़ना अनिवार्य है. इरडा ने सभी जीवन बीमा और साधारण बीमा कंपनियों को भेजी सूचना में कहा है कि उन्हें इस निर्देश का क्रियान्वयन बिना विलंब के करना होगा. भारत में 24 जीवन बीमा कंपनियां और 33 जनरल बीमा कंपनियां ऑपरेशन में हैं.

No comments:

Post a comment