मासिक करेंट अफेयर्स

10 November 2017

यूनेस्को ने चेन्नई को संगीत के क्षेत्र में रचनात्मक शहर की संज्ञा दी

यूनेस्को ने रचनात्मक शहरों के नेटवर्क की सूची में संगीत की समृद्ध परंपरा में योगदान के लिए तमिलनाडु के चेन्नई को शामिल किया है. संयुक्त राष्ट्र के वैज्ञानिक, शैक्षणिक और सांस्कृतिक संगठन (यूनेस्को) ने 31 अक्तूबर को 44 देशों के 64 शहरों की यह सूची ‘यूनेस्को क्रियेटिव सिटीज नेटवर्क’ के तहत जारी की जिन्हें यूनेस्को महानिदेशक इरिना बोकोवा ने रचनात्मक शहरों की संज्ञा दी है. यूनेस्को द्वारा जारी वक्तव्य के अनुसार अधिक टिकाऊ तथा समावेशी शहरी विकास के कारकों के रूप में नवोन्मेषिता एवं रचनात्मकता को बढ़ावा देने के संस्था के प्रयासों के तहत इन शहरों को इस नेटवर्क में शामिल किया गया है. इस सूची के बाद अब इस नेटवर्क में कुल 72 देशों के 180 शहर शामिल हो गये हैं.

टिकाऊ विकास और नये शहरी एजेंडा के लिए संयुक्त राष्ट्र के 2030 के एजेंडा के क्रियान्वयन की रूपरेखा के तहत यह नेटवर्क शहरों को अपनी निरंतरता बनाने में समृद्ध संस्कृति की भूमिका को प्रदर्शित करने का मंच मिलेगा. यूनेस्को महानिदेशक के हवाले से बयान में कहा गया कि इन शहरों को ये नयी संज्ञा शहर के परिचय और भौगोलिक संतुलन में और अधिक विविधता को प्रदर्शित करती है. जिनमें से19 शहर पहले इस नेटवर्क में नहीं थे. इस नेटवर्क में भारत से चेन्नई को संगीत के लिए रचनात्मक शहरों में शुमार किया गया है. 44 देशों के अन्य 64 शहरों में संगीत के लिए न्यूजीलैंड का आकलैंड, पुर्तगाल का अमारांते, मेक्सिको का मोरेलिया तथा इटली का पेसारो समेत अन्य शुमार हैं. डिजाइन के क्षेत्र में दुबई, तुर्की के इस्तांबुल और चीन के वुहान सहित कुछ शहरों का नाम इस सूची में है.

इसके अलावा लोक कला, शिल्प, फिल्म, साहित्य आदि क्षेत्रों में भी समृद्ध परंपराओं को आगे बढ़ाने के लिए कई शहरों को इसमें जगह मिली है. विभिन्न श्रेणियों के तहत इस नेटवर्क में रचनात्मक शहर की संज्ञा पाने वाले कुछ अन्य प्रमुख शहरों में मिस्र का काहिरा, दक्षिण अफ्रीका का केपटाउन एवं डरबन, ब्राजील का ब्राजीलिया, अमेरिका का कंसास और इटली का मिलान आदि हैं.

No comments:

Post a comment