मासिक करेंट अफेयर्स

27 November 2017

राष्ट्रीय संविधान दिवस मनाया गया

पुरे देशभर में 26 नवंबर 2017 को संविधान दिवस मनाया गया. भारत गणराज्य का संविधान 26 नवम्बर 1949 को बनकर तैयार हुआ था. संविधान सभा के निर्मात्री समिति के अध्यक्ष डॉ॰ भीमराव आंबेडकर ने भारत के महान संविधान को 2 वर्ष 11 माह 18 दिन में 26 नवम्बर 1949 को पूरा कर राष्ट्र को समर्पित क्रम किया. गणतंत्र भारत में 26 जनवरी 1950 से संविधान अमल में लाया गया. आंबेडकरवादी और बौद्ध लोगों द्वारा कई दशकों पूर्व से ‘संविधान दिवस’ मनाया जाता है. भारत सरकार द्वारा पहली बार 2015 से डॉ॰ भीमराव आंबेडकर के इस महान योगदान के रूप में 26 नवम्बर को "संविधान दिवस" मनाया गया. 26 नवंबर का दिन संविधान के महत्व का प्रसार करने और डॉ॰ भीमराव आंबेडकर के विचारों और अवधारणाओं का प्रसार करने के लिए चुना गया था.

इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी दिल्ली के विज्ञान भवन में संविधान के बारे में बताया. पीएम मोदी ने कहा कि समय के साथ हमारे संविधान ने हर परीक्षा को पार किया है. हमारे संविधान ने उन लोगों की हर आकांक्षा को गलत साबित किया है जो कहते हैं कि समय के साथ चुनौतियां सामने आएंगी उनका समाधान हमारा संविधान नहीं दे पाएगा. पीएम मोदी ने कहा कि 21वीं सदी में न्यू इंडिया बनाने के लिए हम सभी को संकल्प लेना होगा. हम गरीबी, गंदगी, बीमारी और भूख मुक्त देश बनाना चाहते हैं. इसके लिए हम सबको संकल्प लेना होगा. देश एक बड़े मिशन पर चल रहा है, इस मिशन के लिए हर वर्ग से समर्थन मिलेगा. मोदी ने कहा सोच भी आत्मविश्वास से भरी होनी चाहिए. हम रहें या ना रहें लेकिन देश तो रहने वाला है. हम रहें या ना रहें लेकिन जो व्यवस्था हम देश को देकर जाएंगे वो सुरक्षित, स्वाभीमानी और स्वावलंबी भारत की व्यवस्था होनी चाहिए.

No comments:

Post a comment