मासिक करेंट अफेयर्स

27 November 2017

संयुक्त राष्ट्र ने पूर्व मंत्री अनिल माधव दवे समेत दो भारतीयों को ओजोन अवार्ड प्रदान किया

पृथ्वी को हानिकारक पराबैंगनी किरणों (अल्ट्रावॉयलेट रेज) से बचाने वाली ओजोन परत के संरक्षण की दिशा में उल्लेखनीय काम करने वाले दो भारतीयों को संयुक्त राष्ट्र के प्रतिष्ठित 'ओजोन अवार्ड' से सम्मानित किया गया है. इसमें पूर्व पर्यावरण राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) दिवंगत अनिल माधव दवे भी शामिल हैं. सेंटर फॉर साइंस एंड एनवायरनमेंट (सीएसई) के उपनिदेशक चंद्र भूषण को भी सम्मानित किया गया. पूर्व मंत्री का मई में निधन हो गया था. सीएसई के उपनिदेशक चंद्र भूषण को 'पार्टनरशिप' श्रेणी में सम्मानित किया गया. सीएसई की 'डाउन टू अर्थ' पत्रिका को 'बेस्ट मीडिया कवरेज' की श्रेणी में सम्मान दिया गया.

मांट्रियल प्रोटोकॉल के तीस वर्ष पूरा होने के मौके पर संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम की ओर से कनाडा में आयोजित कार्यक्रम में यह अवार्ड दिया गया. दवे को 'राजनीतिक नेतृत्व' की श्रेणी में मरणोपरांत यह सम्मान दिया गया. किगाली संशोधन (रवांडा, अक्टूबर, 2016) को अंजाम तक पहुंचाने में उनकी भूमिका की सराहना की गई. पर्यावरण मंत्री हर्षवर्धन ने पूर्व मंत्री दवे को ओजोन अवार्ड से सम्मानित करने को भारत के लिए गर्व की बात बताया है.

No comments:

Post a comment