मासिक करेंट अफेयर्स

16 December 2017

श्रीलंका भूमि-खदान प्रतिबंध संधि पर हस्ताक्षर करने वाला 163वां देश बना

श्रीलंका ने भूमि-खदान प्रतिबंध संधि सम्मेलन की सदस्यता के लिए अपनी सहमति दे दी और इसके साथ ही यह इस सम्मलेन का 163वां सदस्य देश बन गया है. श्रीलंका ने पिछले साल इस संधि सम्मेलन में भाग लेने और अंतर्राष्ट्रीय समुदाय को लैंडमाइन क्लीयरेंस प्रोग्राम पर अपना समर्थन देने का वादा किया था. पाठकों को बता दे की यह श्रीलंका का एक महत्वपूर्ण कदम माना जा रहा है क्योंकि यह ऐसे खानों का इस्तेमाल करने वाला प्रमुख देशों में से एक था. पर इसके बाद से इसने ऐसे खदानों को बंद करने का व्यापक और निरंतर प्रयास शुरू किया था.

श्रीलंका ने कहा कि वे इस कन्वेंशन को लागू करने और बढ़ावा देने के लिए तत्पर हैं, जिसमें क्षमता निर्माण और खदानों को निपटाना शामिल है. जो भी सदस्य देश इस संधि या सम्मेलन का सदस्य बनता है, वे सभी देश इस संधि की सहमति पर हस्ताक्षर करने के 4 सालों के अन्दर, ऐसे खदानों को, जो उनके पास है या उनके क्षेत्र में आता है, नष्ट करने को प्रतिबद्ध होता है.

No comments:

Post a comment