मासिक करेंट अफेयर्स

16 December 2017

नरिंदर बत्रा भारतीय ओलंपिक संघ के प्रमुख बने

अंतरराष्ट्रीय हॉकी संघ के मुखिया नरेन्द्र बत्रा भारतीय ओलंपिक संघ के (आइओए) अध्यक्ष बन गए हैं. गुरुवार को सालाना आम सभा में हुई वोटो की गिनती में बत्रा आगे निकले। 60 वर्षीय बत्रा को 142 वोट मिले और वह चार साल तक इस पद पर बने रहेंगे. एकतरफा चुनाव में उनके सामने खड़े अनिल खन्ना को सिर्फ 13 ही वोट मिले. अखिल भारतीय टेनिस संघ के अध्यक्ष खन्ना ने चुनाव आयोग को पत्र लिखकर चुनाव से हटने का फैसला किया था, लेकिन नाम वापसी की आखिरी तारीख तीन दिसंबर निकलने की वजह से वह चुनाव से हट नहीं पाए. वहीं राजीव मेहता एक बार फिर चार साल के लिए महासचिव बन गए हैं. वह इस पद पर अकेले खड़े थे. बत्रा अब उन कुछ खास खेल अधिकारियों में से एक होंगे जो अंतरराष्ट्रीय फेडरेशन के साथ ही राष्ट्रीय ओलंपिक कमेटी का भी कार्यभार संभालेंगे. इसके अलावा आनंदेश्वर पांडे कोषाध्यक्ष बने, उन्होंने राकेश गुप्ता को चार वोट से हराया. वरिष्ठ उपाध्यक्ष के पद पर आरके आनंद ने जेएस गहलोत को 96 वोटो से हराया. 

चुनाव जीतने के बाद बत्रा ने कहा कि वह सरकार के सामने 2032 ओलंपिक के साथ ही 2030 एशियन गेम्स और 2026 कॉमनवेल्थ गेम्स की मेजबानी करने का प्रस्ताव रखेंगे. आइओए के नवनियुक्त अध्यक्ष ने कहा कि मुझे अभी आइओए अध्यक्ष का पदभार संभालना है, लेकिन जब मैं बन जाऊंगा तो सरकार के सामने ओलंपिक, एशियन गेम्स और कॉमनवेल्थ गेम्स की मेजबानी का प्रस्ताव रखूंगा. हमें बड़ा सोचना चाहिए लेकिन इन तीन बड़े आयोजनों की मेजबानी सरकार पर ही निर्भर है, जो पैसा उपलब्ध कराती है. उन्होंने कहा कि आइओए एक अच्छे माहौल में सरकार के साथ काम करेगी. हम सरकार के साथ अच्छे संबंध चाहते हैं. जहां तक अंतरराष्ट्रीय आयोजनों का सवाल है तो हम इस पर भी सोच रहे हैं. हमें पाकिस्तान के साथ खेलना पड़ेगा, लेकिन मुझे लगता है कि द्विपक्षीय सीरीज में पाकिस्तान के साथ खेलना संभव नहीं है.

No comments:

Post a comment