मासिक करेंट अफेयर्स

11 January 2018

बिहार में ई-सिगरेट पिने पर प्रतिबन्ध लगाया गया, पीते हुए पकड़े जाने पर 3 साल की सजा, 5,000 रुपये जुर्माना

बिहार देश के उन राज्यों में शामिल हो गया हैं, जहां ई-सिगरेट पर पाबंदी लगा दी गयी है. इसका मतलब अगर आप ई-सिगरेट पीते पकड़े गये तो ना केवल एक से तीन साल की सज़ा, बल्कि पांच हज़ार का फाइन भी लग सकता है. बिहार सरकार के स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी आदेश के अनुसार, इस फैसले से राज्य में निकोटीन के प्रयोग पर अंकुश लगेगा. खासकर ये कदम नयी पीढ़ी के लोगों का इसके प्रति आकर्षण को कम करेगा. सरकार मान कर चल रही है कि युवा वर्ग में ई-सिगरेट का चलन बढ़ा है, जो इनकी ऑनलाइन बिक्री से प्रमाणित होता है.

इसके अलावा राज्य सरकार ने वैसे निकोटीन युक्त पदार्थों को भी प्रतिबंधित कर दिया है, जो ड्रग कंट्रोलर जेनरल ऑफ इंडिया द्वारा अनुमोदित नहीं हैं. फिलहाल, राज्य के औषधि नियंत्रक ने अपने आदेश में कहा हैं कि ई-सिगरेट के माध्यम से निकोटीन के गलत इस्तेमाल के मद्देनज़र ये कदम उठाया जा रहा है. राज्य सरकार के इस आदेश के बाद अब ना केवल बिक्री, बल्कि ऑनलाइन विज्ञापन पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया है. अब सवाल यह है कि बिहार में इससे पूर्व शराब पर भी पाबंदी लगायी गयी, लेकिन पुलिस के नाकों तले पूरे राज्य में शराब को घर-घर तक पहुंचाया जा रहा है.

No comments:

Post a comment