मासिक करेंट अफेयर्स

31 January 2018

भारत सरकार ने किया Li-Fi तकनीक का परीक्षण, Wi-Fi से 100 गुना तेज इंटरनेट

भारत सरकार ने तेज गति से चलने वाले इंटरनेट तकनीक,लाइट फिडेलिटी (Li-Fi) का परीक्षण किया है. यह तकनीक, वाई-फाई के मुकाबले एक दो नहीं बल्कि 100 गुना तेज है. इस टेक्‍नोलॉजी को एक भारतीय दीपक सोलंकी ने डेवलप किया है. दीपक, स्‍टार्टअप कंपनी वेलमेनी के को-फाउंडर हैं और उन्‍होंने लाई-फाई नामक टेक्‍नोलॉजी डेवलप की है. लाई-फाई चलाने के लिए आपको चाहिए बिजली का एक सोर्स जैसे एलईडी बल्ब, इंटरनेट कनेक्शन और एक फोटो डिटेक्टर. वेलमेनी ने एक गीगाबिट प्रति सेकेंड की रफ्तार से डेटा भेजने के लिए एक लाई-फाई बल्ब का इस्तेमाल किया. परीक्षण में पता चला कि सैद्धांतिक तौर पर यह रफ्तार 224 गीगाबिट प्रति सेकेंड तक हो सकती है. अब भारत सरकार ने भी इस तकनीक में दिलचस्पी दिखाई है.

भारत सरकार इस Li-Fi तकनीक को अपने महत्वाकांक्षी प्रोजेक्ट, स्मार्ट सिटी में प्रयोग करने पर विचार कर रही है. चूंकि यह तकनीक एलईडी बल्ब पर काम करती है इसलिए सरकार इस तकनीक के जरिए देश के दुर्मम इलाकों को इंटरनेट से जोड़ने पर विचार कर रही है. अभी तक ये दुर्मग इलाके इंटरनेट की सुविधा से अछुते हैं क्योंकि यहां पर इंटरनेट के लिए फाइबर लाइन बिछाना काफी दूभर कार्य है. दीपक सोलंकी ने बताया कि उन्होंने जब इसके बिजनेस मॉडल पर काम करना शुरू किया तो किसी भी निवेशक को उनका प्लान नहीं समझ में आया जिसके बाद वो इस्तोनिया चले गए. इस्तोनिया में उन्होंने इस मॉडल पर खूब काम किया. दीपक सोलंकी अब भारत लौट आए हैं. अब भारत सरकार दीपक के प्रोजक्ट पर विचार कर रही है.

No comments:

Post a comment