मासिक करेंट अफेयर्स

14 February 2018

भारतीय महिला ने साड़ी पहनकर 13 हजार फीट की ऊंचाई से लगाई छलांग, बनाया वर्ल्ड रिकॉर्ड

महाराष्ट्र के पुणे की रहने वाली शीतल राणे महाजन ने थाईलैंड के पटाया में 13 हजार फीट की ऊंचाई से महाराष्ट्रीयन नऊवारी साडी पहनकर छलांग लगाकर एक नया इतिहास रच डाला. 2003 से एडवेंचर स्पोर्ट्स की दुनिया में पहचान बना चुकी शीतल पहली भारतीय हैं. बता दे कि पटाया में 13 हजार फुट की ऊंचाई से छलांग लगाकर विश्व रिकार्ड बनाया. वह पहली भारतीय महिला हैं जिन्होंने नऊवारी साड़ी पहनकर यह कारनामा किया है. जमीन पर आने के तुरंत बाद शीतल ने कहा कि मैंने पहले भी 2 बार 13 हजार फुट की ऊंचाई से छलांग लगाई है. इस बार महिला दिवस से पहले कुछ नया करना चाहती थी, इसलिए साड़ी पहनकर स्काई-डाइविंग की. यह चुनौतियों से भरा था. रिकॉर्ड बनाने के बाद उन्होंने कहा कि अनुकूल मौसम होने से वह विश्व प्रसिद्ध पर्यटक रिसॉर्ट पट्टाया के ऊपर एक विमान से लगभग 13,000 फीट से दो बार छलांग लगाने में सफल रहीं.

शीतल राणे महाजन ने कहा कि देश में महिलाएं विभिन्न तरह की साड़ी पहनती हैं लेकिन महाराष्ट्र की नऊवारी साड़ी को पहनना और इसे संभालना सबसे मुश्किल है. 35 वर्षीय जाबांज महिला ने कहा कि मैं यह साबित करना चाहती थी कि भारतीय महिला न केवल अपने सामान्य दिनचर्या में यह साड़ी पहन सकती है बल्कि स्काइडाइविंग जैसे जोखिम भरे एडवेंचर को भी अंजाम दे सकती है. उन्होंने कहा कि वैसे तो ये साड़ी पहनना ही काफी जटिल है, फिर उसके बाद पैराशूट, सेफ्टी गियर, हेल्मेट, गॉगल, जूते, जैसी सभी चीजें पहनकर कूदना चुनौती भरा होता है. उन्होंने कहा कि मैं ऐसा करके ये बताना चाहती थी कि भारतीय महिलाएं साड़ी में सिर्फ खूबसूरत ही नहीं दिख सकतीं, बल्कि इसे पहनकर बेहद मुश्किल काम भी कर सकती हैं.

आपको बता दे कि नऊवारी साड़ी महाराष्ट्र में आम महिलाएं पहनती हैं. इस साड़ी की खासियत ये है कि इसकी लंबाई 8 मीटर से ज्यादा होती है. जबकी आम साड़ियों की लंबाई करीब 6 मीटर होती है. इसे खास तरह से लपेटा जाता है जो अपने आप में काफी जटिल है. यही कारण है कि इस साड़ी के ऊपर पैराशूट पहनकर आसमान से कूदना शीतल के लिए काफी मुश्किल था. बता दे कि पद्मश्री विजेता और दो जुड़वा बच्चों की मां शीतल राणे महाजन ने अब तक 18 राष्ट्रीय स्तर के स्काइडाइविंग रिकार्ड स्थापित किए हैं. इसके अलावा इनके नाम पर छह अंतर्राष्ट्रीय रिकार्ड, पूरे विश्व में 704 जंप लगाने का रिकार्ड है. उन्हें कई राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय सम्मान से भी सम्मानित किया गया है.

No comments:

Post a comment