मासिक करेंट अफेयर्स

22 February 2018

गूगल ने एंड्रॉयड पे और गूगल वॉलेट के स्थान पर 'गूगल पे' एप लांच की

गूगल ने हाल ही में ऐलान किया था कि सभी पेमेंट सर्विस को ‘गूगल पे’ से जोड़ा जाएगा. गूगल ने अब ‘गूगल पे’ एप को एंड्रॉयड यूजर्स के लिए रोल आउट कर दिया है. गूगल अभी तक एंड्रॉयड पे और गूगल वॉलेट पर पेमेंट की सुविधा दे रही थी, लेकिन कंपनी अब इन दोनों सर्विस की जगह पर 'गूगल पे' लेकर लेकर आ रही है. गूगल यूजर्स को नए डिजाइन और फीचर्स के साथ यूपीआई सर्विस मुहैया करवाई जाएगी. गूगल ने एंड्रॉयड पे एप को साल 2015 में लॉन्च किया था. यूजर्स को ‘गूगल पे’ इस्तेमाल करने में कोई दिक्कत न हो, कंपनी ने इसका पूरा ख्याल रखा है. गूगल ने इसके लिए यूट्यूब पर 4 नए वीडियो भी जारी किये हैं. इन वीडियो में नए एप को इस्तेमाल करने से जुड़ी जानकारियां दी गई हैं. यूजर्स को इसमें एप की सिक्योरिटी और पेमेंट सर्विस के बारे में विस्तार से बताया गया है. गूगल ने अपने ब्लॉग में लिखा, ‘हम गूगल पे को आपके सामने लाने के लिए काम कर रहे हैं. हमारा मकसद है कि आप क्रोम या कहीं और शॉपिंग करते वक्त इसका इस्तेमाल कर सकें. आप पेमेंट की जानकारी अपने गूगल अकाउंट में सेव भी कर सकते हैं.’

‘गूगल पे’ एप के फीचर्स की बात करें, तो इसमें नया होम टैब दिखाई दे रहा है. इस पर ‘नियरबाई स्टोर’ ‘हेल्पफुल टिप्स’ और ‘ऑफर्स’ जैसे आईकॉन दिखाई दे रहे हैं. इसके अलावा, इसमें एक कार्ड टैब भी मौजूद है, जिसमें यूजर्स को डेबिट, क्रेडिट और अन्य कार्ड के ऑप्शन दिखाई देते हैं. यूजर्स ‘गूगल पे’ एप में एंड्रॉयड पे की तरह ही पेमेंट की जानकारी को सेव कर सकते हैं. मार्केट में सैमसंग पे और एप्पल पे जैसे प्लेटफॉर्म भी पहले से मौजूद हैं. गूगल ने सैमसंग पे और एप्पल पे को टक्कर देने के लिए ये बदलाव किए हैं. आधिकारिक तौर पर, गूगल पे एप यूएस और यूके में रोल आउट होगा. हालाकिं, कंपनी की ओर से यह नहीं बताया गया है कि इसे दूसरे देशों में कब लॉन्च किया जाएगा. गूगल ने भारत में ‘तेज’ पेमेंट सर्विस लॉन्च की है. यह यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस (यूपीआई) पर आधारित एप है. इसे आप प्ले स्टोर या एप्पल स्टोर से फ्री में डाउनलोड कर सकते हैं. गूगल तेज एप 8 भारतीय भाषाओं को सपोर्ट करता है.

No comments:

Post a comment