मासिक करेंट अफेयर्स

14 February 2018

वन क्षेत्र के मामले में भारत विश्व के शीर्ष दस देशों में शामिल

केन्द्रीय वन, पर्यावरण एवं जलवायु परिवर्तन मंत्रालय द्वारा जारी एक रिपोर्ट में भारत में वनों की स्थिति के बारे में बताया गया है. इस रिपोर्ट में भारत विश्व के शीर्ष देश देशों की श्रेणी में शामिल हो गया है. इसकी जानकारी केन्द्रीय मंत्री डॉ. हर्षवर्धन द्वारा प्रदान की गई. वन क्षेत्रों के मामलें में भारत दुनिया के शीर्ष दस देशों में से आठवें स्थान पर है. रिपोर्ट के अनुसार भारत के भू-भाग का लगभग 24.4 प्रतिशत भाग वन क्षेत्रों एवं पेड़ो से घिरा हुआ है. हांलांकि यह विश्व के कुल भूभाग का यह केवल 2.4 प्रतिशत है. इन वनों पर 17 प्रतिशत मनुष्यों की आबादी और 18 प्रतिशत मवेशियों की संख्या की जरूरतों को पूरा करने का दबाव है.

संयुक्त राष्ट्र खाद्य एवं कृषि संगठन की ताजा रिपोर्ट के मुताबिक भारत को विश्व के शीर्ष दस देशों में आठवां स्थान प्रदान किया गया है जहां वार्षिक स्तर पर वन क्षेत्रों में सर्वाधिक वृद्धि हुई है. बता दें कि वर्ष 2015 की अपेक्षा इस वर्ष देश में वन एवं वृक्षारोपण की स्थिति में 8021 वर्गकिलोमीटर की वृद्धि हुई है. इसमें 6,778 वर्ग किमी की वृद्धि वन क्षेत्रों में हुई है जबकि वृक्षारोपण  के क्षेत्र में 1243 वर्ग किमी की वृद्धि हुई है. देश के कुल भौगोलिक क्षेत्र में वनों और वृक्षारोपण क्षेत्र का हिस्सा 24.39 प्रतिशत है.

भारत में सर्वाधिक वन क्षेत्र एवं वृक्षारोपण आन्ध्र प्रदेश, कर्नाटक और केरल का प्रदर्शन अच्छा रहा. आन्ध्र प्रदेश में वन क्षेत्रों में 2141 वर्ग किलोमीटर की वृद्धि हुई है. जबकि कर्नाटक इस मामले में दूसरे स्थान पर रहा. कर्नाटक में 1101 वर्ग किमी और केरल में 1043 वर्ग किमी वन क्षेत्रों में वृद्धि हुई है. सर्वाधिक वन क्षेत्रों की बात करें तो मध्य प्रदेश इस मामले में शीर्ष स्थान पर है. मध्य प्रदेश में 77414 वर्ग किमी पर वन क्षेत्र हैं जबकि दूसरे स्थान पर अरूणाचल प्रदेश है जहां पर 66964 वर्ग किमी पर वन क्षेत्र हैं. तीसरे स्थान पर छत्तीसगढ़ है.

No comments:

Post a comment