मासिक करेंट अफेयर्स

12 March 2018

भारत-फ्रांस के बीच 14 समझौते पर हस्ताक्षर

भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व फ्रांस के राष्‍ट्रपति इमैनुएल मैक्रों की मौजूदगी में दोनों देशों के बीच 14 अहम समझाैते हुए. इस मौके पर हैदराबाद हाउस में आयोजित संयुक्‍त वक्तव्य में दोनों देशों के प्रमुखों ने आतंकवाद के खिलाफ सहयोग की बात कही. प्रधानमंत्री मोदी ने दोनों देशों की मित्रता को अहम बताया और कहा, सरकार किसी की भी हो दोनों देशों के बीच गहरी मित्रता है. 'प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, 'हम सिर्फ दो लोकतंत्र के नेता नहीं हैं, हम समर्थ और समृद्ध विरासत के उत्‍तराधिकारी हैं.  हमारे देशों और हमारी सभ्‍यताओं की साझेदारी सदियों पुरानी है. हम मानते हैं कि हमारे द्विपक्षीय संबंधों के उज्‍जवल भविष्‍य के लिए सबसे महत्‍वपूर्ण आयाम है हमारे पीपुल टू पीपुल संबंध. हम चाहते हैं कि हमारे युवा एक दूसरे के देशों को जानें, इसके लिए हमने आज दो समझौते भी किए हैं.' पीएम मोदी ने कहा कि फ्रांस और भारत की एक मंच पर उपस्थिति शांतिमय विश्व के लिए सुनहरा संकेत है. दोनों देशों की स्वतंत्र और स्वायत्त विदेश नीतियां सिर्फ अपने ही नहीं बल्कि सार्वभौमिक मूल्यों को समेटने पर केंद्रित हैं. यदि कोई दो देश कंधे से कंधा मिलाकर चल सकते हैं तो वे हैं, भारत और फ्रांस. 2015 में इंटरनैशनल सोलर अलायंस का लॉन्च हुआ था तो फ्रांस उसमें अहम था।.पीएम ने कहा कि रक्षा, सुरक्षा, अंतरिक्ष और हाई टेक्नॉलजी में भारत और फ्रांस की दोस्ती का इतिहास लंबा है. सरकार कोई भी हो, लेकिन रिश्तों का ग्राफ लगातार ऊंचा उठा है.

वहीं मैक्रों ने कहा, ‘भारत और फ्रांस ने आतंकवाद और कट्टरपंथ से निपटने के लिए साथ मिलकर काम करने का निर्णय लिया है. दोनों देशों के बीच रक्षा सहयोग का अब नया स्‍वरूप होगा. फ्रांस, भारत का सबसे बेहतरीन साझीदार देश और यूरोप में भारत के प्रवेश का बिंदु होना चाहिए. मैक्रों ने कहा कि हमारा पहला उद्देश्य रक्षा, अनुसंधान एवं विज्ञान, विशेष रूप से युवा, उच्च शिक्षा और विज्ञान के क्षेत्र में भारत और फ्रांस की रणनीतिक साझेदारी का नया युग शुरू करना है. मैक्रों ने कहा, 'यह महत्वपूर्ण है कि क्योंकि आतंकवाद के संदर्भ में दोनों देशों के बीच कई सामान्य चुनौतियां और साझा जोखिम हैं.'

फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों पत्‍नी ब्रिगिट मैक्रों के साथ चार दिवसीय भारत यात्रा पर शुक्रवार शाम को भारत पहुंचे और प्रोटोकॉल तोड़ते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्‍वयं एयरपोर्ट पर उनका स्‍वागत किया. फ्रांसीसी राष्ट्रपति के विमान से उतरने के बाद प्रधानमंत्री मोदी ने गले लगाकर उनका स्वागत किया. चार दिवसीय भारत यात्रा पर आए राष्‍ट्रपति मैक्रों का राष्‍ट्रपति भवन में औपचारिक स्‍वागत हुआ और उन्‍हें गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया. इस अवसर फ्रांसीसी राष्‍ट्रपति ने यहां औपचारिक स्‍वागत के बाद कहा, भारत आना खुशी और गर्व की बात है. फ्रांसीसी राष्‍ट्रपति ने कहा, ‘मुझे लगता है कि हमारी केमिस्‍ट्री काफी अच्‍छी है हमारे दो लोकतंत्रों का ऐतिहासिक संबंध है. पत्‍नी ब्रिगिट के साथ मैक्रों ने राजघाट पर महात्‍मा गांधी को श्रद्धांजलि भी अर्पित की.

No comments:

Post a comment