मासिक करेंट अफेयर्स

19 March 2018

विश्व प्रसन्नता रिपोर्ट 2018: भारत की रैंक 133, फ़िनलैंड शीर्ष पर

संयुक्त राष्ट्र महासभा के नेतृत्व में 14 मार्च, 2018 को संयुक्त राष्ट्र निर्वहनीय विकास समाधान नेटवर्क (UNSDSN) द्वारा छठवीं ‘विश्व प्रसन्नता रिपोर्ट-2018’ (World Happiness Report-2018) जारी की गई. विश्व प्रसन्नता रिपोर्ट, 2018 की इस सूची में 156 सदस्य देशों को शामिल किया गया है. इस रिपोर्ट के अनुसार विश्व के सबसे खुश देशों की सूची में फिनलैंड प्रथम स्थान पर है. रिपोर्ट में विश्व के शीर्ष दस देशों में फिनलैंड के बाद क्रमागत रूप से नॉर्वे, डेनमार्क, आइसलैंड, स्विट्जरलैंड, नीदरलैंड्स, कनाडा, न्यूजीलैंड, स्वीडन तथा ऑस्ट्रेलिया शामिल हैं. इस सर्वेक्षण कार्य के अंतर्गत उक्त देशों में लोगों की खुशियों के स्तर को मापने हेतु 6 महत्वपूर्ण निर्धारक कारकों (Key Factors) का प्रयोग किया गया है.
ये निर्धारक कारक बिंदुवार निम्नवत हैं-
(i) जीडीपी प्रति व्यक्ति आय (GDP Per Capita)
(ii) स्वस्थ जीवन प्रत्याशा (Healthy Life Expectancy)
(iii) सामाजिक स्वतंत्रता (Social Freedom)
(iv) भ्रष्टाचार का अभाव (Absence of Curruption)
(v) सामाजिक अवलंबन (Social Support) तथा
(vi) उदारता (Generosity) ।

इस सूची में विश्व के प्रमुख विकसित देशों में जर्मनी 15वें, अमेरिका 18वें, यूनाइटेड किंगडम 19वें, फ्रांस 23वें, सिंगापुर 34वें तथा जापान 54वें स्थान पर है. इस रिपोर्ट के अनुसार, इस सूची में भारत 133वें स्थान पर है. जबकि गत वर्ष भारत इस सूची में 122वें स्थान पर था. भारत के पड़ोसी देशों में पाकिस्तान को 75वां भूटान को 97वां, नेपाल को 101वां, बांग्लादेश को 115वां तथा श्रीलंका को 116वां स्थान प्राप्त हुआ है. इस प्रकार भारत इस सूची में अपने पड़ोसी देशों से काफी पीछे है. शीर्ष 10 देशों में कोई भी एशियाई देश शामिल नहीं है. सबसे प्रसन्न एशियाई देशों में इस्राइल को 11वां तथा संयुक्त अरब अमीरात (UAE) को 20वां स्थान प्राप्त हुआ है. इस रिपोर्ट के अनुसार, बुरुंडी विश्व के सबसे प्रसन्न देशों की सूची में अंतिम पायदान पर है। उसका स्थान 156वां है.
 
गौरतलब है कि वर्ष 2012 से संयुक्त राष्ट्र द्वारा जारी की जाने वाली इस रिपोर्ट का मुख्य उद्देश्य सदस्य देशों को अपने नागरिकों की संतुष्टि एवं प्रसन्नता के स्तर को ध्यान में रखते हुए लोक नीतियों के निर्माण हेतु प्रेरित करना है. पूर्वी अफ्रीका में बुरुंडी दुनिया में सबसे अप्रसन्न स्थान है. अध्ययन से पता चलता है कि अमेरिका 2016 से 5 स्थान नीचे होकर 18 वें स्थान पर आ गया है. पाकिस्तान (75 वें), चीन (86 वें) और नेपाल (101 वां) के बाद रिपोर्ट में भारत की 133वें स्थान पर है.

No comments:

Post a comment