मासिक करेंट अफेयर्स

20 March 2018

वर्ल्डवाइड कॉस्ट ऑफ लिविंग रिपोर्ट 2018- सिंगापुर सबसे महंगा, दमास्कस सबसे सस्ता

द इकोनॉमिस्ट इंटेलीजेंस यूनिट की वर्ल्डवाइड कॉस्ट ऑफ़ लिविंग रिपोर्ट 2018 के अनुसार सिंगापुर दुनिया का सबसे महंगा शहर है. द इकोनोमिस्ट इंटेलिजेंस यूनिट (ईआईयू) ने पूरे विश्व में 133 शहरों के लिए वर्ल्डवाइड कॉस्ट ऑफ़ लिविंग सूचकांक 2018 को प्रकाशित किया, जो कि एक सर्वेक्षण के अनुसार 150 से अधिक उत्पादों और सेवाओं में 400 से अधिक व्यक्तिगत कीमतों की तुलना पर आधारित है. युद्ध-तबाह सीरिया की राजधानी दमास्कस, दुनिया में रहने के लिए सबसे सस्ता शहर है, उसके बाद वेनेजुएला की राजधानी कराकस है. सर्वे में बेंगलुरु, चेन्नई, कराची और नई दिल्ली जैसे 10 शहरों को सबसे सस्ते गंतव्य के रूप में दर्शाया गया है. 

रिपोर्ट में कहा गया है, हालांकि भारत एक तेजी से उभरती हुई अर्थव्यवस्था है, लेकिन इसके बावजूद वेतन और खर्च करने के मामले में यहां की ग्रोथ अब भी काफी कम है. आय में असमानता इसका एक महत्वपूर्ण कारण है. आज भी घर खर्च चलाने के लिए यहां लोगों को काफी जद्दोजहद करनी पड़ती है. पश्चिमी देशों की तुलना में यहां कम दर पर ग्रामीण क्षेत्रों से शहरी इलाकों में खाद्यान्नों और अन्य वस्तुओं की आपूर्ति, कुछ सामानों पर सरकारी सब्सिडी भी वस्तुओं के दाम बढ़ने से रोकते हैं. सीरिया की राजधानी दमिश्क दुनिया का सबसे सस्ता शहर है. वहीं, वेनेजुएला की राजधानी कराकस और कजाकस्तान का व्यापारिक केंद्र अलमाटी इस सूची में दूसरे और तीसरे स्थान पर हैं.
 
अन्य दस सबसे सस्ते शहरों में लागोस चौथे स्थान पर, बेंगलुरु पांचवें स्थान पर, कराची छठे स्थान पर, अल्जीयर्स सातवें स्थान पर, चेन्नई आठवें स्थान पर, बुचारेस्ट नौवें स्थान पर और नई दिल्ली दसवें स्थान पर है. रिपोर्ट के मुताबिक, यद्यपि भारतीय उपमहाद्वीप ढांचागत रूप से काफी सस्ता है, और यहां स्थायित्व रहन-सहन एवं भरण-पोषण भी अन्य देशों की तुलना में कुछ निम्न स्तर का है. इसका मतलब यह है कि विश्व के कुछ देशों की अपेक्षा यहां जोखिम भी अधिक होते हैं.

 सूची में शीर्ष 5 मूल्यवान शहर हैं-
1. सिंगापुर 2. पेरिस, फ्रांस 3. ज़्यूरिख़, स्विटज़रलैंड 4. हांगकांग, चीन 5. ओस्लो, नॉर्वे

No comments:

Post a comment