मासिक करेंट अफेयर्स

25 April 2018

पेटीएम भुगतान बैंक ने पंजीकृत किये 100 मिलियन KYC वॉलेट

पेटीएम पेमेंट्स बैंक ने 10 करोड़ से अधिक KYC (नो योर कस्टमर) रजिस्टर्ड वॉलेट होने का दावा किया है. इनमें पूरे और न्यूनतम KYC कस्टमर्स शामिल हैं. हाल के समय तक ऐसी आशंका जताई जा रही थी कि कस्टमर ऑथेंटिकेशन की रफ्तार धीमी होने के कारण मोबाइल वॉलेट के यूजर्स की संख्या में बड़ी गिरावट आ सकती है. पेटीएम पेमेंट्स बैंक में वन97 कम्युनिकेशंसकी 49 पर्सेंट हिस्सेदारी है, जबकि बाकी की 51 पर्सेंट हिस्सेदारी इसके मालिक विजय शेखर शर्मा के पास है. पेटीएम पेमेंट्स बैंक ने 10 करोड़ KYC करने का दावा किया है. इनमें से 7.6 करोड़ बायोमीट्रिक्स के जरिए किए गए हैं. पेटीएम पेमेंट्स बैंक की एमडी और सीईओ, रेणु सत्ती ने बताया, 'पेटीएम यूजर्स क्रेडिट/डेबिट कार्ड, बैंक एकाउंट, पेटीएम वॉलेट या पेटीएम पोस्टपेड के जरिए पेमेंट्स कर रहे हैं. हम देश
में पेमेंट्स इंफ्रास्ट्रक्चर मजबूत करने में इनवेस्टमेंट करना जारी रखेंगे. हमने कस्टमर्स के KYC को पूरा करने के लिए देश भर में डिस्ट्रीब्यूशन नेटवर्क बनाया है.' पिछले वर्ष वन97 का वॉलेट लाइसेंस पेटीएम पेमेंट्स बैंक को ट्रांसफर किया गया था, जिसमें विजय शेखर शर्मा की मेजॉरिटी होल्डिंग है.
रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) ने पिछले वर्ष कहा था कि मोबाइल वॉलेट कंपनियों को कस्टमर्स के सभी ऑथेंटिकेशन डॉक्युमेंट्स एकत्र करने के साथ ही उनकी व्यक्तिगत तौर पर पुष्टि करनी होगी. हालांकि, RBI ने KYC कम्प्लायंस की 28 फरवरी की डेडलाइन पूरी होने के बाद मोबाइल वॉलेट्स का ट्रांजैक्शन डेटा अभी तक जारी नहीं किया है. आधार नंबर जारी करने वाली यूनीक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया (UIDAI) की वेबसाइट के अनुसार, पेटीएम पेमेंट्स बैंक की मौजूदा महीने में eKYC ट्रांजैक्शंस बढ़कर 7.8 करोड़ तक पहुंच सकती हैं. पेटीएम पेमेंट्स बैंक ने ऑथराइज्ड KYC सेंटर्स, होम विजिट और मोबाइल एप्लिकेशन के जरिए कस्टमर्स का ऑथेंटिकेशन किया है. डिजिटल पेमेंट्स इंडस्ट्री पर नजर रखने वाले एक्सपर्ट्स का कहना है कि 10 करोड़ KYC का आंकड़ा पार करना एक ब़ड़ी उपलब्धि है क्योंकि KYC के नियम के कारण कस्टमर्स की संख्या में कमी आई थी.

देश की बड़ी ई-कॉमर्स कंपनी एमेजॉन इंडिया के पेमेंट वॉलेट एमेजॉन पे के कस्टमर्स की ओर से अपने वॉलेट को लोड करने में बड़ी कमी दर्ज की गई है. एमेजॉन के प्रवक्ता ने ईटी को बताया कि फुल KYC की आवश्यकता के कारण कस्टमर्स वॉलेट के इस्तेमाल से बच रहे हैं और डिलीवरी पर कैश देना अधिक पसंद कर रहे हैं.

1 comment:

  1. JEE Main Result 2018 of paper 1 and paper 2 will be declared on two different days. Candidates can check their JEE Main 2018 Result by visiting the official website of JEE Main 2018.

    ReplyDelete