मासिक करेंट अफेयर्स

25 April 2018

नितिन गडकरी ने नई दिल्ली में 29वें सड़क सुरक्षा सप्ताह का उद्घाटन किया

केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने नई दिल्ली, विज्ञान भवन में 29वें सड़क सुरक्षा सप्ताह का उद्घाटन किया है. उन्होंने "हैव ए सेफ जर्नी" नामक किताब जारी की है. मंत्रालय सामान्य लोगों में जागरूपकता पैदा करने और सड़क इस्तेमाल करने वालों की सुरक्षा में सुधार के लिए प्रत्येक वर्ष सड़क सुरक्षा सप्ताह आयोजित करता है. इस वर्ष सड़क सुरक्षा सप्ताह 23 से 29 अप्रैल तक मनाया जा रहा है और स्कूलों तथा वाणिज्यिक चालकों पर फोकस किया गया है. इस अवसर पर नितिन गडकरी ने कहा कि उन्होंने कार्यभार संभालने के बाद देश में दुर्घटनाओं में होने वाली 1.5 लाख मौतों को घटाकर आधा करने का लक्ष्य तय किया है. गडकरी ने कहा कि इस दिशा में प्रगति हुई है, लेकिन अभी भी वह संतुष्ट नहीं हैं और इस दिशा में कार्य करने की इच्छा रखते हैं. गडकरी ने कहा कि देश में राजमार्ग सूचना प्रणाली लागू करने के लिए दक्षिण कोरिया के साथ समझौते की संभावना तलाशी जा रही है. राजमार्ग सूचना प्रणाली दक्षिण कोरिया के एक्सप्रेस हाईवे इंफोर्मेशन कॉरपोरेशन द्वारा चलाई जा रही प्रणाली की तर्ज पर होगी और इसमें केंद्रीकृत नियंत्रण कक्ष से एकीकृत रूप में राजमार्गो की निगरानी की जा सकेगी. 
 
गडकरी ने विद्यार्थियों से अनुरोध किया कि वे अपने परिवार और समाज के लिए सड़क सुरक्षा के राजदूत बनें. उन्होंने सड़क सुरक्षा पर राष्ट्रीय स्तर की लेखन प्रतियोगिता के 15 विजेता स्कूली बच्चों को पुरस्कार प्रदान किए. शीर्ष तीन विजेताओं को क्रमश: 15 हजार रुपये, 10 हजार रुपये और पांच हजार रुपये के नकद पुरस्कार और प्रमाण-पत्र दिए गए. गडकरी ने इस अवसर पर लोगों को सड़क सुरक्षा की शपथ दिलाई. गडकरी ने कहा कि "लोकसभा द्वारा पारित मोटर वाहन (संशोधन) विधेयक, 2017 के राज्यसभा में पारित किए जाने की प्रतीक्षा की जा रही है. यह विधेयक व्यापक रूप से सड़क सुरक्षा को प्रोत्साहित करता है. विधेयक एक सक्षम, बाधा रहित और एकीकृत मल्टीमोड सार्वजनिक परिवहन प्रणाली के विकास को प्रोत्साहन देगा." 
उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय राजमार्गो पर 789 संभावित दुर्घटना स्थलों को चिन्हित किया गया है, जिनमें से 139 स्थानों को ठीक किया गया है, और 233 स्थानों के लिए ठेके दिए गए हैं और कार्य प्रगति पर है. गडकरी ने भारतीय सड़क सुरक्षा अभियान (आईआरएसी) द्वारा सड़क सुरक्षा पर तैयार पत्र भी जारी किया. आईआरएसी युवा नेतृत्व वाला राष्ट्रीय मिशन है, जिसका उद्देश्य सड़क सुरक्षा को बढ़ावा देना है. अभियान का नेतृत्व आईआईटी, दिल्ली के विद्यार्थियों और पूर्ववर्ती विद्यार्थियों द्वारा किया जा रहा है.

No comments:

Post a comment