मासिक करेंट अफेयर्स

17 May 2018

दो साल का बीएड कोर्स बंद होगा, चार वर्षीय बीए-बीएससी बीएड ही चलेगा

अगले साल से दो वर्षीय बीएड काेर्स बंद हो जाएगा. सिर्फ बीए बीएड, बीएससी बीएड और बीकॉम बीएड जैसे चार वर्षीय कोर्स ही चलेंगे. केंद्रीय मानव संसाधन मंत्रालय (एम.चआरडी) ने यह निर्णय लिया है. इसलिए 2019 के सत्र में बीएड जीरो ईयर घोषित होने की भी संभावना है. यानी, एडमिशन नहीं होंगे. बीए, बीएससी बीएड में एडमिशन 12वीं के बाद मिलेगा. नेशनल काउंसिल फॉर टीचर्स एजुकेशन (एनसीटीई) ने तीन साल पहले बीए, बीकॉम और बीएससी बीएड कोर्स लांच कर दिया था. एमएचआरडी की तैयारी है कि 12वीं के बाद ही टीचिंग में आने वाले
छात्रों की पढ़ाई शुरू हो जाए. चार साल के बीएड कोर्स के सिलेबस में वह सब-कुछ है, जो परंपरागत कोर्स में ग्रेजुएशन और उसके बाद बीएड में होता है.

अभी कॉलेजों में दो साल का बीएड और तीन साल का बीएड-एमएड संयुक्त कोर्स चल रहा है. दो साल के बीएड कोर्स में प्रवेश परीक्षा से प्रवेश होते हैं, लेकिन 45 फीसदी तक सीटें खाली रह जाती हैं. कॉलेजों की एसोसिएशन के पूर्व संयोजक पं. रामबाबू शर्मा के मुताबिक 12वीं के बाद बीएड होने से छात्रों की संख्या में कई गुना इजाफा होगा.

No comments:

Post a comment