मासिक करेंट अफेयर्स

28 May 2018

मोदी ने देश को पहले स्मार्ट और हरित राजमार्ग ईस्टर्न पिरिफेरल एक्सप्रेसवे का उद्घाटन किया

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने देश को पहले स्मार्ट और हरे राजमार्ग, उत्तर प्रदेश के बागपत में पूर्वी परिधीय एक्सप्रेसवे समर्पित किया. 135 किलोमीटर लंबा छह-लेन एक्सेस-नियंत्रित एक्सप्रेसवे पर्यावरण अनुकूल है और इसमें विश्व स्तरीय सुरक्षा सुविधाएं हैं. इसमें गाजियाबाद, फरीदाबाद, गौतमबुद्ध नगर और पलवल के बीच सिग्नल-फ्री कनेक्टिविटी की परिकल्पना की गई है. यह 11,000 करोड़ रुपये की लागत से बनाया गया है. यह जल विद्युत कटाई के प्रावधानों के अलावा सौर ऊर्जा द्वारा जलाया जाने वाला भारत का पहला राजमार्ग है. इससे पहले दिन
में प्रधान मंत्री ने दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे के पहले चरण का उद्घाटन किया. दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे के पहले चरण में 14-लेन राजमार्ग के 9 किलोमीटर के खिंचाव के निर्माण पर 842 करोड़ रुपये खर्च किए गए.
बता दें कि प्रधानमंत्री ने इस परियोजना के लिये आधारशिला पांच नवंबर 2015 को रखी थी. खास बात है कि यह देश का पहला राजमार्ग है जहां सौर बिजली से सड़क रोशन होगी. इसके अलावा प्रत्येक 500 मीटर पर दोनों तरफ वर्षा जल संचयन की व्यवस्था होगी. साथ ही इसमें 36 राष्ट्रीय स्मारकों को प्रदर्शित किया जाएगा तथा 40 झरने होंगे. इसे रिकार्ड 500 दिनों में पूरा किया गया है. इस एक्सप्रेस वे पर 8 सौर संयंत्र हैं जिनकी क्षमता 4 मेगावाट है. पहले कुंडली से पलवल जाने में 4 घंटे लगते थे अब ये दूरी सवा घंटे में पूरी होगी. दिल्ली का ट्रैफ़िक क़रीब 27 फ़ीसदी कम हो जाएगा. रोज़ाना क़रीब 50 हज़ार वाहन बिना दिल्ली आए हरियाणा से यूपी चले जाएंगे

No comments:

Post a comment