मासिक करेंट अफेयर्स

08 May 2018

स्किल इंडिया ने भुवनेश्वर में आजीविका एवं कौशल विकास मेला का आयोजन किया

कौशल विकास और उद्यमिता मंत्रालय (MSDE) और ग्रामीण विकास मंत्रालय (MoRD) ने एक साथ मौजूदा सरकार के "ग्राम स्वराज अभियान" को
बढ़ाने के लिए हाथ मिलाया है, जो सरकार गरीबों के लिए की गयी पहलों के प्रति सामाजिक सद्भाव और जागरूकता को बढ़ावा दे रहा है. MSDE ने ओडिशा के भुवनेश्वर में न्यू विमेन कॉलेज में कौशल और रोजगर मेला का आयोजन किया, जहां विभिन्न पेशों से आये 5000 से अधिक लोगों ने भाग लिया. इस अवसर पर कौशल विकास और उद्यमिता मंत्री धर्मेंद्र प्रधान द्वारा देश भर में 29 से अधिक राज्य बहु-कौशल 'प्रधानमंत्री कौशल केंद्र' डिजिटल रूप से लॉन्च किए गए. धमेंद्र प्रधान ने जनसमूह को संबोधित करते हुए कहा, ‘हमारी सरकार ने इस देश के सभी लोगों के समर्थन से शासन के 4 सफल वर्ष संपन्न किए हैं. ‘सबका साथ सबका विकास' के हमारे विजन का धीरे धीरे प्रभाव दिखने लगा है और हमने इस अभियान की शुरूआत हमारे ‘ग्राम‘ हमारे गांवों पर फिर से फोकस करने के लिए की है. 

उन्होंने कहा कि कौशल विकास एवं उद्यमशीलता मंत्री के रूप में, अल्पकालिक एवं दीर्घकालिक दोनों ही प्रकारों के प्रशिक्षण के जरिये हमारी कोशिश स्थानीय स्तर पर गुणवत्तापूर्ण कौशल प्रशिक्षण की सुविधा प्रदान करने की है. श्री प्रधान ने कहा कि ‘मैं हमारे सभी युवाओं, उनके माता पिताओं और हमारे समाज के लोगों से आग्रह करता हूं कि वे बेशुमार संसाधनों एवं हमारी सरकार द्वारा उपलब्ध योजनाओं का लाभ उठाएं. इस रोजगार मेला (प्लेसमेंट ड्राइव) के लिए लगभग 3000 उम्मीदवारों ने पंजीकृत कराया जिसमें यूरेका फोर्ब्स, फ्लिपकार्ट, ओला, रिलायंस डिजिटल, वीएलसीसी जैसी 41 अग्रणी कंपनियों द्वारा 1000 से अधिक प्रत्याशियों का चयन किया गया. समारोह के दौरान कौशल मेला का भी आयोजन किया गया जिसमें सेक्टर स्किल काउंसिल, बैंकर, प्रशिक्षण साझीदार,उद्योग, आईटीआई आदि जैसे विविध हितधारकों द्वारा प्रदर्शनी आयोजित की गई जिन्होंने प्रत्याशियों एवं उनके अभिभावकों को परामर्श प्रदान किया.

No comments:

Post a Comment