मासिक करेंट अफेयर्स

02 May 2018

अंतर्राष्ट्रीय बौद्ध सम्मेलन नेपाल के लुम्बिनी में संपन्न हुआ

अंतर्राष्ट्रीय बौद्ध सम्मेलन 2018 गौतम बुद्ध के जन्मस्थान लुंबिनी, नेपाल में संपन्न हुआ. समापन भाषण नेपाल के प्रधान मंत्री केपी ओली ने दिया. भारत सहित 20 से अधिक देशों के प्रतिभागियों ने 2 दिवसीय सम्मेलन में भाग लिया था. इसे 2562 वें बुद्ध जयंती समारोहों के हिस्से के रूप में आयोजित किया गया था. सम्मेलन का मूल उद्देश्य गौतम बुद्ध की शिक्षाओं का प्रसार करना था और अंतरराष्ट्रीय समुदाय में अहिंसा, भाईचारे, सह-अस्तित्व, प्रेम और शांति का संदेश फैलाना था. इस बार के अंतर्राष्ट्रीय बौद्ध सम्मेलन का विषय “नेपाल के लुम्बिनी:बुद्ध के गृहनगर, बौद्ध धर्म और विश्व शांति का स्रोत” है. 

इस अवसर पर लोगो को संबोधित करते हुए नेपाली संस्कृति, पर्यटन और नागरिक उड्डयन मंत्रालय के
सचिव कृष्ण प्रसाद देवकोटा ने कहा कि इस बार के अंतर्राष्ट्रीय बौद्ध सम्मेलन का मुख्य लक्ष्य बुद्ध के गृहनगर यानी लुम्बिनी की लोकप्रियता को बढ़ाना है, अंतर्राष्ट्रीय बौद्ध संचार का विकास और लुम्बिनी को बौद्ध धर्म और विश्व शांति के स्रोत के रूप में बनाया जाना है.। साथ ही वे नेपाल को दुनिया में मुख्य तीर्थयात्रा गंतव्य स्थलों में से एक बनाने के लिये प्रयास करेंगे।.लुम्बिनी विश्व सांस्कृतिक विरासतों में से एक है. यह नेपाली पवित्र भूमि है.

लुम्बिनी में स्थित चीनी मंदिर विदेश में चीनी बौद्ध संघ द्वारा स्थापित पहला राष्ट्रीय मंदिर है. 2018 अंतर्राष्ट्रीय बौद्ध सम्मेलन का मुख्य स्थान चीनी मंदिर में है. चीनी बौद्ध संघ के उप प्रमुख और चीनी मंदिर के महंत यिनशुन महान भिक्षु ने कहा कि सभी पक्षों को दुनिया में सभ्यताओं की विविधता का सम्मान करना चाहिये. विभन्न सभ्यताओं के बीच मनमुटाव, संघर्ष और पक्षपात के बजाय सभी पक्षों को संचार, आपसी सीख और साथ-साथ मौजूद रहने का पालन करना चाहिये. विश्व शांति, क्षेत्रीय विकास और समृद्धि, मानव जाति की सुख-सुविधा के लिये अंतर्राष्ट्रीय समुदाय को निरंतर प्रयास करना चाहिये.

No comments:

Post a Comment