मासिक करेंट अफेयर्स

30 June 2018

फलस्तीनी शरणार्थियों की मदद के लिए भारत ने दिए 50 लाख डॉलर


फलस्तीनी शरणार्थियों की मदद के लिए भारत ने संयुक्त राष्ट्र की संस्था यूएनआरडब्ल्यूए को 50 लाख डॉलर (करीब 34 करोड़ रुपये) दिए हैं. अमेरिका के अपना अंशदान कम करने से धन की किल्लत से जूझ रही यूनाइटेड नेशंस रिलीफ एंड वर्क्स एजेंसी (यूएनआरडब्ल्यूए) को इससे राहत कार्य संचालित करने में मदद मिलेगी. इस साल मार्च में रोम में हुए एक कार्यक्रम में भारत ने ऐलान किया था कि वह 12.5 लाख डॉलर की अपनी सहयोग राशि को बढ़ाकर 50 लाख डॉलर कर देगा. यूएनआरडब्ल्यूए की कमिश्नर पियरे कराहेनबुहल ने सोमवार को यहां एक कार्यक्रम में कहा कि शरणार्थियों की मदद के लिए 25 करोड़ डॉलर (करीब 1705 करोड़ रुपये) की कमी पड़ रही है.

अमेरिका द्वारा सहयोग राशि में की गई कटौती इसकी
बड़ी वजह है. अमेरिका से उन्हें 36.5 करोड़ डॉलर मिलने की उम्मीद थी. लेकिन अमेरिका ने सिर्फ 6.5 करोड़ डॉलर ही दिए. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने गत जनवरी में यूएनआरडब्ल्यूए की मदद में कटौती का एलान कर दिया था. एक रिपोर्ट के मुताबिक यूएनआरडब्ल्यूए जॉर्डन, लेबनान, सीरिया, गाजा पट्टी और वेस्ट बैंक में फैले 53 लाख फलस्तीनी शरणार्थियों की मदद करता है. भारत सहित दुनिया के 20 देश यूएन की इस एजेंसी को आर्थिक रूप से मदद करते हैं.

No comments:

Post a comment