मासिक करेंट अफेयर्स

27 June 2018

ओडिशा की पल्लवी बनीं देश की पहली जनजातीय रानी

जहां एक ओर 19 साल की अनुकृति व्यास ने मिस इंडिया बनकर देशवासियों का दिल जीत लिया, वहीं चकाचौंध औऱ ग्लैमर से भरे इस कार्यक्रम से दूर ओडिशा के पिछड़े इलाके में भी एक लड़की ने अपनी खूबसूरती और समझदारी से पहली ट्राइबल क्वीन बनने का सौभाग्य हासिल किया. बता दें कि रविवार को ओडिशा के कोरापुट जिले के उत्कल मंडप में आयोजित आदि रानी कलिंग 2018 जनजातीय प्रतियोगिता में पल्लवी दुरुआ को पहली जनजातीय रानी यानी ट्राइबल क्वीन के रूप में ताज पहनाया गया. इस प्रतियोगिता में देश भर से जनजातिय समूह की लड़कियों ने भाग लिया था थी जिनमें से आखिर में तीन के बीच फाइनल राउंड का मुकाबल हुआ.
जिनमें पहले स्थान पर पल्लवी दुरुआ, दूसरे पर टिटलागढ़ के पंचमी माजी और तीसरे स्थान पर मयूरभंज के रश्मिरेखा हंसदाह रहीं.
 

खास बात है कि प्रतिस्पर्धा मे शीर्ष पर रहने वाली ये तीनों लड़कियां जल्द ही मुंबई स्थित निर्माता द्वारा बनाई जाने वाली एक शॉट फिल्म में भी दिखाई देंगी. बता दें कि ट्राइबल क्वीन का चयन करने वाली जूरी में राष्ट्रीय और राज्य स्तर के लोग शामिल थे, जिसका नेतृत्व पद्म श्री तुलसी मुंडा ने किया था जो इस कार्यक्रम की चीफ गेस्ट भी थी. वहीं इसका आयोजन एससी /और एसटी विभाग, ओडिशा सरकार और राज्य पर्यटन विभाग ने मिलकर किया था. प्रतियोगिता के अंतिम दौर में प्रतिभागियों ने अपने जनजाति संस्कृति का प्रतिनिधित्व किया, जिसमें लड़कियों ने अपने पारंपरिक पोशाक में कपड़े पहनकर कैट वॉक किया.
 
ट्राइबल क्वीन का ताज पहनने के बाद पल्लवी ने कहा कि समूह में उनके जैसी कई जनजातीय लड़कियों को घूमने या पढ़ने की इजाजत नहीं है. लेकिन इस मुकुट को जीतने के बाद मुझे उम्मीद है कि मैं दूसरों के लिए एक उदाहरण बन सकती हूं. साथ ही लोग अंधविश्वास भी छोड़ देंगे और लड़कियों को दुनिया का सामना करने देंगे. गौरतलब है कि इस कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य जनजातीय कला और संस्कृति को बढ़ावा देना था. उम्मीद है कि इस तरह के और भी कार्यक्रम होते रहेंगे जो लड़कियों के अंदर आत्मविश्वास बढ़ाने और देश भर को इन जनजातियों को जानने का मौका देंगे. वहीं इस समारोह के साथ ही अब जनजाति लड़कियों के लिए भी एक शुरुआत हो गई अपने सपने पूरे करने की जिन्हें पहले पढ़ने और घर से निकलने तक की भी अनुमति नहीं होती थी.

No comments:

Post a comment