मासिक करेंट अफेयर्स

05 June 2018

सीबीएसई ने राष्ट्रीय पात्रता व प्रवेश परीक्षा (NEET- 2018) का रिजल्ट घोषित किया, 99.99 पर्सेंटाइल के साथ कल्पना कुमारी बनी टॉपर

देश के मेडिकल कॉलेजों में प्रवेश के लिए केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की ओर से आयोजित राष्ट्रीय पात्रता प्रवेश परीक्षा (नीट) के परिणामों की आज घोषणा कर दी गयी जिसमें सात लाख 14 हजार 562 छात्र सफल घोषित किये गये. इस परीक्षा में 12 लाख 69 हजार 922 छात्र सम्मिलित हुए थे. बिहार की कल्पना कुमारी ने सर्वाधिक 691 अंक प्राप्त कर पहला स्थान हासिल किया है. तेलंगाना के रोहित पुरोहित और दिल्ली के हिमांशु शर्मा 690 अंक लाकर दूसरे और तीसरे स्थान पर रहे. सीबीएसई की जारी विज्ञप्ति के अनुसार नीट वर्ष 2018
की परीक्षा के नतीजे सीबीएसई की वेबसाइट पर देखे जा सकते हैं. विज्ञप्ति के अनुसार सामान्य वर्ग के छात्रों के लिए कट ऑफ 691-119 तक निर्धारित किये गये हैं जबकि  आरक्षित वर्ग के लिए 118 से लेकर 96 तक कट ऑफ निर्धारित किये गये हैं. विज्ञप्ति के सामान्य वर्ग के दिव्यांग छात्रों के लिए कट ऑफ 118 से 107  निर्धारित किया गया है जबकि आरक्षित वर्ग के दिव्यांग छात्रों के लिए कट ऑफ 106 से 96 तय किया गया है.

विज्ञप्ति के अनुसार कुल 13 लाख 26 हजार 725 छात्रों ने इस परीक्षा के लिए पंजीकरण कराया था, जो पिछले साल की परीक्षा में पंजीकृत छात्रों की संख्या से 16.49 प्रतिशत अधिक है. इस बार की परीक्षा में कुल 12 लाख 69 हजार 922 छात्रों ने परीक्षा में भाग लिया था, जबकि 56 हजार 8०3 छात्र परीक्षा से गायब रहे. इस बार परीक्षा में 5 लाख 80 हजार 649 लडके पंजीकृत थे, जबकि लड़कियों की संख्या सात लाख 46 हजार 75 थी.  इसके अलावा एक उभयलिंगी छात्र ने भी परीक्षा दी, और वह भी सफल हो गया. सफल होने वाले छात्रों में तीन लाख 12 हजार 399 लड़के हैं, जबकि 4 लाख 2 हजार 162 लड़कियां हैं।
 
इस बार परीक्षा में 12 लाख 66 हजार 229 भारतीय छात्रों ने, 1,651 एनआरआई छात्रों ने, विदेशी 518 छात्रों ने, 469 ओवरसीज छात्रों ने और 55 भारतीय मूल के छात्रों ने परीक्षा दी. इनमें से सात लाख 12 हजार 635 भारतीय छात्र सफल हुए, जबकि 1200 एनआरआई छात्र, 366 ओवरसीज छात्र और 324 विदेशी छात्र तथा 36 भारतीय मूल के छात्र सफल रहे. इस बार परीक्षा में पांच लाख 56 हजार 621 पिछड़े वर्ग के छात्रों ने परीक्षा में भाग लिया जबकि तीन लाख 27 हजार 527 छात्र पास हुए. कुल एक लाख 71 हजार 856 अनुसूचित जाति के छात्र परीक्षा में बैठे, जिसमें 87,311 पास हुए. वहीं  75,232 अनुसूचित जनजाति के छात्र परीक्षा में बैठे, जिसमें 31,30 सफल हुए. सामान्य वर्ग के चार लाख 66 हजार 213 छात्रों में से दो लाख 68 हजार 316 छात्र सफल हुए. इस बार नीट परीक्षाएं इंग्लिश, हिंदी, तेलुगू, असमिया, गुजराती, मराठी, तमिल, बंगला, कन्नड, उदूर् के साथ-साथ कई क्षेत्रीय भाषाओं में हुई.

No comments:

Post a Comment