मासिक करेंट अफेयर्स

28 July 2018

पाकिस्तान आम चुनाव में पूर्व क्रिकेटर इमरान खान की पार्टी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ चुनाव जीती

पाकिस्तान आम चुनाव 2018 के सभी नतीजों की आधिकारिक घोषणा हो गई है. पूर्व क्रिकेटर इमरान खान की पार्टी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ, पाकिस्तान आम चुनाव जीत गई है. मगर सरकार बनाने के लिए इमरान खान की पार्टी को गठबंधन करने की जरूरत होगी. पाकिस्तान चुनाव के सभी नतीजों के आधिकारिक घोषणा के मुताबिक, 270 सीटों के परिणाम जारी हुए हैं. इस परिणाम के मुताबिक क्रिकेटर से राजनेता बने इमरान खान की पार्टी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ यानी पीटीआई को 116 सीटें मिली हैं. वहीं, पनामा मामले में जेल में बंद पूर्व पीएम नवाज शरीफ की पार्टी
पीएमएलएन को 64 सीटें ही मिल पाई हैं. इसके अलावा पाकिस्तान चुनाव आयोग की आधिकारिक घोषणा के मुताबिक, पीपीपी को 43, एमएमए को 13, एमक्यूएम को 4, बीएपी को 4 सीटें मिली हैं. 

पाकिस्तान आम चुनाव के आधिकारिक परिणाम ने क्रिकेटर से नेता बने इमरान खान की पार्टी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ या पीटीआई की जीत का ऐलान कर दिया है. हालांकि, इमरान खान को सरकार बनाने के लिए सहयोगियों की जरूरत होगी और तब जाकर वह गठबंधन की सरकार बना पाएंगे. गौरतलब है कि किसी एक पार्टी को अपने दम पर सरकार बनाने के लिए सीधे तौर पर निर्वाचित सीटों में से कम से कम 137 सीटों की जरूरत होगी. पाकिस्तान की नेशनल असेंबली में कुल 342 सदस्य होते हैं जिनमें से 272 को आम चुनावों में सीधे तौर पर चुना जाता है जबकि शेष 60 सीटें महिलाओं और 10 सीटें धार्मिक अल्पसंख्यकों के लिए आरक्षित हैं. आम चुनावों में पांच फीसदी से ज्यादा वोट पाने वाली पार्टियां इन आरक्षित सीटों पर समानुपातिक प्रतिनिधित्व के हिसाब से अपने प्रतिनिधि भेज सकती हैं. 

जीत के बाद पीटीआई अध्यक्ष इमरान खान ने कहा कि, 'मैं अल्लाह का शुक्रिया करना चाहता हूं. 22 सालों की कड़ी मेहनत के बाद मेरी दुआओं का जवाब मिला है. अब मुझे मेरे सपनों को साकार करने और देश की सेवा करना का मौका मिला है.' इमरान ने कहा कि हम पाकिस्तान में लोकतंत्र को मजबूत होते देख रहे हैं. कई आतंकी हमलों के बावजूद चुनावों का सफल आयोजन हुआ, इसके लिए मैं सुरक्षाबलों को बधाई देना चाहता हूं. उन्होंने कहा कि पाकिस्तान के हिन्दुस्तान से ताल्लुख अच्छे होते हैं तो हम एक दूसरे से बिजारत करेंगे. कोशिश होनी चाहिए पाकिस्तान और भारत को एक टेबल पर बैठकर बातचीत करना चाहिए. इमरान ने कहा कि पाकिस्तान भारत के साथ संबंध सुधारने के लिए तैयार हैं. अगर भारत सरकार एक कदम आगे बढ़ती है तो हम दो कदम आगे बढ़ेंगे. 

पीटीआई प्रमुख इमरान खान ने कहा कि मैं देश के लिए राजनीति में आया हूं. अब जाकर मुझे पाकिस्तान की सेवा का मौका मिला है. उन्होंने कहा कि पाक से किया वादा मैं निभाऊंगा. उन्होंने कहा कि हमारी नीतियां कमजोर तबके लिए होंगी. हमें मजदूर गरीबों की चिंता भी है. उन्होंने कहा कि गरीबी एक बड़ा चैलेंज है हमें इसके खिलाफ लड़ना है. चीन हमारे लिए एक बड़ा उदाहरण है. पिछले 30 सालों में चीन में 70 करोड़ लोग गरीबी रेखा से बाहर आए. हम देश के किसान, गरीब तबकों के लिए काम करेंगे. हम कमजोर तबके के लिए नीतियां बनाएंगे. मैं पाकिस्तान में इंसानियत का राज कायम करना चाहता हूं.

No comments:

Post a comment