मासिक करेंट अफेयर्स

11 September 2018

नाओमी ओसाका ने यूएस ओपन का खिताब जीता

जापान की नाओमी ओसाका यूएस ओपन ग्रैंडस्लैम जीतने वाली पहली जापानी महिला खिलाड़ी बन गई हैं. नाओमी ओसाका ने 08 सितम्बर 2018 को सेरेना विलियम्स को हराते हुए ये खिताब अपने नाम किया. जापान की 20 वर्षीय ओसाका ने विलियमस को फाइनल में 6-2, 6-4 से हराकर अपने करियर का पहला ग्रैंड स्लेम खिताब जीता. ओसाका की यह जीत इसलिए भी खास है कि कोई ग्रैंड स्लैम खिताब जीतने वालीं वह जापान की पहली महिला खिलाड़ी हैं. न्यूयॉर्क के अर्थर ऐश स्टेडियम फाइनल में उन्होंने दुनिया की पूर्व नंबर एक खिलाड़ी को साल के आखिरी ग्रैंड स्लैम में सीधे सेटों में हराया. ओसाका की विलियम्स पर दो मैचों में यह दूसरी जीत है. इसी साल मार्च में उन्होंने मियामी ओपन में सेरेना को हराया था. 

ओसाका ने पहले सेट में काफी आसानी से जीत हासिल की और विवादों के बीच दूसरा सेट भी अपने नाम किया. सेरेना दूसरे सेट में वापसी की कोशिशें कर रही थीं. इस बीच उनके कोच द्वारा कथित रूप से हाथ से इशारे करने के आरोप एक गेम का जुर्माना लगाया गया. कोच की इस हरकत को नियमों का उल्लंघन माना गया. चेयर अंपायर कार्लोस रामोस ने जैसे ही यह फैसला सुनाया सेरेना भड़क उठीं. इसके बाद ओसाका की लीड बढ़कर 5-3 हो गई. गुस्से में सेरेना ने अपना रैकेट कोर्ट पर पटक दिया, जिसे एक बार फिर नियमों की अवहेलना माना गया. उन्होंने अंपायर को 'चोर' भी कहा. इसके बाद उन्होंने अंपायर से माफी मांगी. 

नाओमी ओसाका का जन्म 16 अक्टूबर 1997 को जापान में हुआ था. ओसाका के पास जापान और अमेरिका की दोहरी नागरिकता है और वह जापानी मीडिया के सवालों का जवाब अंग्रेजी में देती है. वे डब्ल्यूटीए रैंकिंग में 19वें पायदान पर हैं. नाओमी ओसाका की बड़ी बहन मारी ओसाका भी एक टेनिस खिलाड़ी है, जो जापान का ही प्रतिनिधित्व करती हैं. जापान में दोनों बहनों की तुलना अमेरिकी बहनें सेरेना-वीनस विलियम्स से की जाती है. नाओमी ओसाका विश्व की सबसे कम उम्र की खिलाड़ी हैं जिन्होंने टॉप 20 में अपनी जगह बनाई है. वे तीन साल की उम्र से ही फ्लोरिडा में रह रही हैं. वे वर्ष 2013 से ही प्रोफेशनल बैडमिंटन खिलाड़ी है. वे जब एक साल की थी तो सेरेना वर्ष 1999 में अपना पहला ग्रैंड स्लैम जीत चुकी थी. उन्होंने इंडियन वेल्स पर शानदार प्रदर्शन किया है जहां उन्होंने पूर्व नंबर 1 खिलाड़ी मारिया शारापोवा, कैरोलीना प्लिसकोवा और सिमोना हालेप को हराया है.

No comments:

Post a comment