मासिक करेंट अफेयर्स

10 October 2018

भारतीय रिजर्व बैंक ने फेडरल बैंक पर 5 करोड़ रुपए का जुर्माना लगाया

भारतीय रिजर्व बैंक ने नियमों की अनदेखी के लिए फेडरल बैंक पर 5 करोड़ रुपए का जुर्माना लगाया है. यह जानकारी भारतीय रिजर्व बैंक ने दी. रिजर्व बैंक ने बुधवार को जानकारी दी है कि बैंक पर ये जुर्माना बड़े कर्ज लेने वालों के बारे में रिपोर्ट करने में चूक, ग्राहकों को मुआवजे का भुगतान नहीं करने और अन्य खामियों के लिए लगाया गया है. केंद्रीय बैंक ने बयान में कहा कि बैंक ने बड़े कर्ज पर सूचना संबंधी केंद्रीय रिपॉजिटरी पर रिपोर्टिंग संबंधी रिजर्व बैंक के नियमों का अनुपालन नहीं किया. इसके अलावा बैंक ने जोखिम आधारित निगरानी आकलन पर भी रिजर्व बैंक को रिपोर्ट करने में चूक की है. इसके अलावा रिजर्व बैंक ने बताया कि बैंक ने ग्राहकों की एटीएम संबंधी शिकायतों के निपटान में देरी के लिए जुर्माना भी नहीं चुकाया है. इसके अलावा बैंक ने अपने ग्राहक को जानिए (केवाईसी) और मनी लांड्रिंग रोधक नियमों के अनुपालन में भी चूक की.

प्राइवेट सेक्टर के बैंक करूर वैश्य बैंक पर भारतीय रिजर्व बैंक ने 5 करोड़ रुपए का जुर्माना ठोका है. बैंक पर जरूरी निर्देश नहीं मानने को लेकर यह जुर्माना लगाया गया है. RBI ने 25 सितंबर को जुर्माना लगाने का आदेश जारी कर दिया था. RBI ने प्रेस रिलीज जारी कर कहा कि बैंक ने फ्रॉड की जानकारी देने और चालू खाता खोलने के समय जरूरी अनुशासन के नियमों का पालन नहीं किया. आपको बता दें कि RBI ने एक और प्राइवेट बैंक बंधन बैंक पर कड़ी कार्रवाई करते हुए सीईओ की सैलरी फ्रीज़ कर दी है. रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) ने बंधन बैंक के सीईओ की सैलरी फ्रीज़ कर दी है. इसके अलावा बैंक को नई ब्रांच खोलने से भी मना कर दिया है. आरबीआई ने बंधन बैंक के सीईओ और मैनेजिंग डायरेक्टर चंद्रशेखर घोष के खिलाफ यह कार्रवाई प्रमोटर के शेयरहोल्डिंग मानकों को पूरा नहीं  करने की वजह से की है. बंधन बैंक अब आरबीआई की मंजूरी के बिना कोई नई ब्रांच नहीं खोल पाएगा.

भारतीय रिजर्व बैंक ने पिछले हफ्ते यूनियन बैंक आफ इंडिया पर धोखाधड़ी पकड़ने और उसके बारे में रिपोर्ट करने में देरी को लेकर एक करोड़ रुपए का जुर्माना लगाया था. यूनियन बैंक आफ इंडिया की ओर से जारी रिजर्व बैंक ने हमारे ऊपर धोखाधड़ी पकड़ने और उसके बारे में रिपोर्ट करने में विलंब को लेकर एक करोड़ रुपए का जुर्माना लगाया. केंद्रीय बैंक ने बैंकिंग नियमन कानून के तहत यह जुर्माना लगाया.

No comments:

Post a comment