मासिक करेंट अफेयर्स

11 October 2018

अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस

विश्वस्तर पर 11 अक्टूबर 2018 को अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस मनाया गया. आज पूरा विश्व 6वां अंतर्राष्ट्रीय बालिका दिवस मना रहा है. इस दिवस को पहली बार साल 2012 में मनाया गया था. इस दिन को मनाने के पीछे का मुख्य उद्देश्य था लड़कियों के विकास के लिए अवसरों को बढ़ाना और लड़कियों की दुनियाभर में कम होती संख्या के प्रति लोगों को जागरूक करना, जिससे कि लिंग असमानता को खत्म किया जा सके. इस दिन को मनाने का उद्देश्य यह भी है कि समाज में जागरूकता लाकर लड़कियों को वे समान अधिकार दिलाए जा सकें, जो कि
लड़कों को दिए गए हैं. अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस' को बढ़ावा देने के लिए इस दिन अलग-अलग देशों में कई तरह के आयोजन भी किए जाते हैं जिसके अंतर्गत लड़कियों की शिक्षा, पोषण, उनके कानूनी अधिकार, चिकित्सा देखभाल के प्रति उन्हें और समाजजनों को जागरूक किया जाता है.

वर्ष 2018 के लिए इस दिवस का विषय- विथ हर: अ स्किल्ड गर्लफोर्स (With Her: A Skilled GirlForce) को निर्धारित किया गया है. संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 19 दिसंबर 2011 को प्रस्ताव संख्या 66/170 को पारित किया. इस मंजूरी के साथ प्रत्येक वर्ष 11 अक्टूबर को ‘अंतर्राष्ट्रीय बालिका दिवस’ के रूप में मनाने की घोषणा की गई. पहले अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस का विषय बाल विवाह की समाप्ति रहा है.

यूनिसेफ की एक रिपोर्ट के मुताबिक पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा बाल विवाह बांग्लादेश में होते हैं और इसके बाद दूसरे नंबर पर भारत का नाम आता है. बालिकाओं को संरक्षण और सशक्त करने के लिए 'बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ' योजना की शुरुआत वर्ष 2015 में हुआ था. पहला अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस विश्वभर में 11 अक्टूबर 2012 को मनाया गया.

No comments:

Post a comment