मासिक करेंट अफेयर्स

30 November 2018

हॉकी विश्व कप 2018 का भुवनेश्वर में शुभारंभ

हॉकी विश्व कप 2018 का भुवनेश्वर में शुभारंभ हो गया है. मेजबान भारत 14वें हॉकी विश्व कप में अपने अभियान की शुरुआत की. यह मैच भुवनेश्वर के कलिंगा स्टेडियम पर खेला जा रहा है. मेजबान भारत का पहला मैच दक्षिण अफ्रीका से होगा. आठ बार के ओलंपिक चैंपियन भारत ने अब तक सिर्फ एक बार विश्व कप जीता है. हॉकी के इस महाकुंभ में विश्व की कुल 16 टीमें हिस्सा ले रही हैं, जो 28 नवंबर से 16 दिसंबर 2018 तक चलेगा. ओडिशा पुरुष हॉकी विश्व कप टूर्नामेंट के मैच विश्व के 194 देशों में प्रसारित किए जा रहे है. अंतर्राष्ट्रीय हॉकी महासंघ (एफआईएच) ने 26 नवम्बर 2018 को एक विज्ञप्ति के माध्यम से इसकी जानकारी देते हुए कहा कि वर्ष 2014 में हुए पिछले संस्करण की तुलना में इसके प्रसारण में 150 प्रतिशत की वृद्धि हुई है. विश्व कप में 16 टीमों को चार ग्रुपों में बांटा गया है. मेजबान भारत को पूल 'सी' में जगह मिली है जबकि पाकिस्तान को पूल 'डी' में रखा गया है. इस विश्व कप में भारत अपना पहला मैच 28 नवंबर को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेलेगा.

ग्रुप ए- अर्जेंटीना, न्यूजीलैंड, स्पेन और फ्रांस
ग्रुप बी- ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड, आयरलैंड और चीन
ग्रुप सी-भारत, बेल्जियम, कनाडा और दक्षिण अफ्रीका
ग्रुप डी-नेदरलैंड्स, जर्मनी, मलेशिया और पाकिस्तान

विश्व कप हॉकी: विश्व कप हॉकी की शुरुआत वर्ष 1971 में हुई थी और अभी तक पाकिस्तान ने सबसे ज्यादा चार बार खिताब पर कब्ज़ा किया है. ऑस्ट्रेलिया और नेदरलैंड्स ने तीन-तीन और जर्मनी ने दो बार विश्व कप पर कब्ज़ा किया है. भारत ने वर्ष 1975 में विश्व कप पर कब्ज़ा किया था. भारत में तीसरी बार हॉकी विश्व कप का आयोजन हो रहा है. इससे पहले वर्ष 1982 और वर्ष 2010 में भारत हॉकी विश्व कप का आयोजन कर चुका है.

विश्व हॉकी रैंकिंग में इस समय ऑस्ट्रेलिया पहले पायदान पर है. चार बार हॉकी विश्व कप का खिताब अपने नाम कर चुके पाकिस्तान की भूमिका भी इस टूर्नामेंट में काफी अहम मानी जा रही है. पाकिस्तान विश्व रैंकिंग में 13वें पायदान पर है. इस समय भारत विश्व रैंकिंग में 5वें पायदान पर है और एशियाई देशों में उसकी रैंकिंग नंबर वन है. पिछली बार हॉकी विश्‍व कप का खिताब ऑस्ट्रेलिया के नाम रहा. वह फाइनल में नीदरलैंड को हराकर वर्ष 2014 में चैंपियन बना था.

No comments:

Post a comment