मासिक करेंट अफेयर्स

12 November 2018

ए आर रहमान की जीवनी ‘नोट्स ऑफ़ अ ड्रीम’ का लोकार्पण किया गया

भारत के प्रसिद्ध संगीतकार एवं ऑस्कर पुरस्कार विजेता ए. आर. रहमान द्वारा हाल ही में मुंबई में अपनी जीवनी “नोट्स ऑफ़ अ ड्रीम” लॉन्च की गई. ए. आर. रहमान की यह जीवनी लेखक कृष्णा त्रिलोक द्वारा लिखी गई है. इस पुस्तक में ए. आर. रहमान के जीवन का विस्तृत वर्णन किया गया है. इसमें उनके व्यक्तिगत जीवन से लेकर व्यावसायिक जीवन के विभिन्न पहलुओं के बारे में बताया गया है. कृष्णा त्रिलोक द्वारा लिखित, लैंडमार्क और पेंगुइन रैंडम हाउस के सहयोग से यह जीवनी मुंबई में लॉन्च की गई थी.

पुस्तक लोकार्पण के समय ए आर रहमान ने अपने जीवन की जानकारी सार्वजनिक करते हुए कहा कि, “25 वर्ष तक, मैं सुसाइड करने के बारे में सोचता था. हम में से ज्यादातर महसूस करते हैं कि यह अच्छा नहीं है. क्योंकि मेरे पिता का इंतकाल हो गया था तो एक तरह का खालीपन था. कई सारी चीजें हो रही थी लेकिन इन सब चीजों ने मुझे और अधिक निडर बना दिया. मौत निश्चित है. जो भी चीज बनी है उसके इस्तेमाल की अंतिम तिथि निर्धारित है तो किसी चीज से क्या डरना.'

ए. आर. रहमान का पूरा नाम अल्लाहरख्खा रहमान है, उनका जन्म 6 जनवरी, 1967 को मद्रास (चेन्नई) में हुआ था.ए. आर. रहमान एक संगीत निर्देशक, कंपोजर, गीत लेखक तथा संगीत उत्पादक हैं. अपने अदभुत संगीत के लिए रहमान ने अब तक 6 राष्ट्रीय पुरस्कार, 2 ग्रैमी अवार्ड, 2 अकादमी अवार्ड, एक बाफ्टा अवार्ड, एक गोल्डन ग्लोब अवार्ड तथा 15 फिल्मफेयर पुरस्कार जीते हैं.  उन्हें वर्ष 2010 में भारत के तीसरे सर्वोच्च नागरिक सम्मान पद्म भूषण से सम्मानित किया गया था. ए. आर. रहमान ऐसे पहले भारतीय हैं जिन्हें ब्रिटिश भारतीय फिल्म स्लम डॉग मिलेनियर में उनके संगीत के लिए दो ऑस्कर पुरस्कार प्राप्त हुए है. इसी फिल्म के गीत 'जय हो' के लिए सर्वश्रेष्ठ साउंडट्रैक कंपाइलेशन और सर्वश्रेष्ठ फिल्मी गीत की श्रेणी में दो ग्रैमी पुरस्कार भी मिले.

No comments:

Post a comment