मासिक करेंट अफेयर्स

28 November 2018

पूर्व रेल मंत्री सी.के. जाफर शरीफ का निधन

वरिष्ठ कांग्रेस नेता और पूर्व केन्द्रीय मंत्री सी. के. जाफर शरीफ का दिल का दौरा पड़ने से 25 नवम्बर 2018 को बेंगलुरु के एक स्थानीय अस्पताल में निधन हो गया. वे 85 साल के थे. वे पिछले कुछ वर्षों से बीमार चल रहे थे और उन्हें सांस लेने में तकलीफ हो रही थी. शरीफ जुमे की नमाज के वास्ते जाने के लिए अपनी कार में सवार होने के दौरान गिर गए थे. इसके बाद उन्हें यहां के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था. अस्पताल ने बताया कि हृदय गति रुक जाने के कारण शरीफ की मृत्यु हुई. 

तीन नवंबर 1933 को चित्रदुर्ग के चल्लाकेरे में जन्मे शरीफ का राजनीतिक करियर करीब 50 साल का रहा. बहरहाल, कांग्रेस के कद्दावर नेता और पूर्व मुख्यमंत्री एस निजलिंगप्पा की छत्रछाया में अपने करियर की शुरुआत करने वाले शरीफ कांग्रेस में टूट के बाद पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के साथ चले गए. शरीफ बेंगलूर उत्तरी सीट से सात बार लोकसभा सदस्य चुने गए. पी वी नरसिंह राव सरकार में वह 1991 से 1995 तक रेल मंत्री भी रहे. उनके रेल मंत्री रहने के दौरान ही यूनिगेज प्रोजेक्ट की शुरुआत हुई थी. शरीफ बेंगलूर उत्तरी सीट से सात बार लोकसभा सदस्य चुने गए थे. उनकी गिनती इंदिरा गांधी के विश्वासपात्र नेताओं में होती थी.

No comments:

Post a comment