मासिक करेंट अफेयर्स

28 November 2018

उत्तराखंड में खुला देश का पहला एचसीआई टेक्नोलॉजी स्टेट डेटा सेंटर

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने 26 नवम्बर 2018 को देहरादून में देश के पहले हाईपर कन्वर्जड इन्फ्रास्ट्रक्चर (एचसीआई) टेक्नोलॉजी युक्त स्टेट डाटा सेन्टर का उद्घाटन किया. उत्तराखण्ड सरकार की सूचना प्रौद्योगिकी विकास एजेंसी (आईटीडीए) द्वारा विकसित यह 3-टीयर राज्य डाटा सेन्टर 100 प्रतिशत सॉफ्टवेयर आधारित एचसीआई तकनीक युक्त देश का पहला डाटा सेन्टर है. यहां सहस्त्रधारा रोड स्थित आईटी पार्क में आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री रावत ने राज्य में स्टेट डाटा सेन्टर को निश्चित समयसीमा से पूर्व कुशलतापूर्वक स्थापित करने के लिए आईटीडीए की
टीम को बधाई देते हुए कहा कि सरकारी परियोजनाओं को निश्चित समयसीमा के भीतर आरम्भ व समाप्त करना आवश्यक है. उन्होंने कहा कि सरकार प्रयास कर रही है कि हर विभाग के बजट का एक निश्चित भाग आईटी व तकनीकी विकास पर लगे. मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य को स्टेट डाटा सेन्टर की बहुत समय से प्रतीक्षा थी और यह सेन्टर अत्याधुनिक व हरित तकनीक पर आधारित है. 

इस सेंटर की क्षमता 105 टीबी से बढ़ाकर 12,000 टीबी तक की जा सकती है. इसे बिजली उपयोग कम करने और बिजली दक्षता बढ़ाने हेतु हरित परिकल्पना पर विकसित किया गया है. अत्याधुनिक स्टेट डाटा सेन्टर की स्थापना से सरकार के सभी विभागों की जानकारियां एक ही स्थान पर उपलब्ध होंगी तथा हमारे कार्यो में गति तेज होने के साथ ही ऊर्जा की बचत भी होगी. यह सेंटर राज्य सरकार के विभिन्न विभागों को सभी प्रकार की सुरक्षित, विश्वसनीय, कुशल और हर समय उपलब्ध रहने वाली डिजिटल सेवाएं प्रदान करेगा. उत्तराखण्ड स्टेट डाटा सेन्टर को बिजली के उपयोग को कम करने व बिजली दक्षता बढ़ाने हेतु ग्रीन कांसेप्ट पर विकसित किया गया हैं. यह विभिन्न विभागों के लिए एक साझा डाटा सेन्टर है जिसके माध्यम से विभाग अपनी आईटी जरूरतें सामान्य निजी क्लाउड पर पूरी कर सकते है. आधुनिक बायोमेट्रिक प्रणाली एवं 24 घंटे सीसीटीवी निगरानी स्टेट डाटा सेन्टर को और अधिक सुरक्षित व विश्वसनीय बनाते हैं.

डाटा सेंटर खुलने से प्रदेश के लोगों को सभी नागरिक सेवाओं का लाभ एक स्थान पर मिल सकेगा. इससे योजनाओं के क्रियान्वयन में पारदर्शिता आएगी. साथ ही साथ समय, धन और मानव संसाधन की भी बचत होगी. वर्ष 2008 से डाटा सेंटर बनाने की कयावद चल रही थी. जो वर्ष 2018 में बनकर तैयार हुई. उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि डाटा सेंटर हाई स्पीड इंटरनेट सेवा से जुड़ा हुआ है. यह प्रधानमंत्री के डिजिटल इंडिया के सपने को साकार करने में अहम भूमिका निभाएगा. स्टेट डाटा सेंटर के स्थापित होने से डिजिटल क्षेत्र में अपार संभावनाएं खुलने की आशा है.

No comments:

Post a comment