मासिक करेंट अफेयर्स

15 December 2018

केसीआर ने तेलंगाना के मुख्यमंत्री पद की शपथ ग्रहण की

तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) के प्रमुख के. चंद्रशेखर राव ने 13 दिसंबर 2018 को तेलंगाना के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली. KCR का यह लगातार दूसरा कार्यकाल है. मंत्रिमंडल का गठन अभी नहीं हुआ है. इस कारण केसीआर के साथ किसी और मंत्री ने शपथ नहीं ली. टीआरएस के नवनिर्वाचित विधायकों ने बुधवार को टीआरएस मुख्यालय तेलंगाना भवन में एक बैठक में केसीआर को अपना नेता चुना था. बाकी मंत्रिमंडल का गठन कुछ दिन में हो सकता है. केसीआर ने नई सरकार के गठन व शपथ ग्रहण समारोह के लिए राज्यपाल को अपना इस्तीफा भेज दिया था. टीआरएस प्रमुख ने कहा कि वह अपने मंत्रिमंडल में सभी वर्गो को प्रतिनिधित्व देने की कोशिश करेंगे. 

राज्य में संवैधानिक व्यवस्था के तहत मंत्रिमंडल में अधिकतम 18 सदस्य हो सकते हैं. टीआरएस नेताओं के एक प्रतिनिधिमंडल ने राज्यपाल से मुलाकात की और टीआरएस विधायक दल की बैठक में केसीआर को सर्वसम्मति से दल का नेता चुने जाने का प्रस्ताव उन्हें सौंपा. आपको बता दें कि तेलंगाना में सात दिसंबर को हुए चुनाव में 119 सदस्यीय विधानसभा में टीआरएस को 88 सीटें हासिल हुई हैं.

के चंद्रशेखर राव का जन्म 17 फरवरी, 1954 को हुआ. वे तेलंगाना के वर्तमान मुख्यमंत्री, तेलंगाना राष्ट्र समिति के प्रमुख, तथा अलग तेलंगाना राष्ट्र आंदोलन के प्रमुख कार्यकर्ता हैं. वे तेलंगाना के मेदक जिले के गजवेल विधानसभा क्षेत्र से विधायक हैं. बतौर मुख्यमंत्री पिछले कार्यकाल में उन्होने 02 जून 2014 को तेलंगाना के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी. इससे पूर्व वे सिद्धिपेट से विधायक तथा महबूबनगर और करीमनगर से सांसद रह चुके हैं. वे केंद्र में श्रम और नियोजन मंत्री रह चुके हैं. तेलंगाना राष्ट्र समिति के गठन से पहले वे तेलुगु देशम पार्टी के सदस्य थे. उन्होंने अलग तेलंगाना राज्य के निर्माण की मांग करते हुए तेलगू देशम पार्टी छोड़ी थी. वह 16वीं लोकसभा चुनावों में भी लोकसभा के लिए चुने गए थे लेकिन उन्होंने लोकसभा से इस्तीफा दे दिया और तेलंगाना के मुख्यमंत्री बने. 6 सितंबर 2018 को, उन्होंने राज्य में टीआरएस सरकार को भंग कर दिया और मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया. जिसके बाद राज्य में राष्ट्रपति शासन लागू हो गया था.

No comments:

Post a Comment