मासिक करेंट अफेयर्स

31 December 2018

केंद्र सरकार ने चार नए सूचना आयुक्त की नियुक्ति को मंजूरी दी

केंद्र सरकार ने केंद्रीय सूचना आयोग (सीआईसी) में खाली चल रहे चार पदों पर नए सूचना आयुक्तों की नियुक्ति की है. केंद्रीय सूचना आयोग में फिलहाल तीन सूचना आयुक्त हैं और नई नियुक्ति के बाद इनकी संख्या सात हो जाएगी. आयोग में मुख्य सूचना आयुक्त समेत 11 पद स्वीकृत हैं. सरकारी आदेश के अनुसार राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने पूर्व आईएफएस अधिकारी यशवर्द्धन कुमार सिन्हा, पूर्व आईआरएस अधिकारी वनजा एन सरना, पूर्व आईएएस अधिकारी नीरज कुमार गुप्ता और पूर्व विधि सचिव सुरेश चंद्र की सूचना आयुक्त के रूप में नियुक्ति को मंजूरी दी.

यशवर्द्धन कुमार सिन्हा 1981 बैच के आईएफएस अधिकारी हैं जो ब्रिटेन में भारत के उच्चायुक्त थे. उन्होंने पटना के सेंट माइकल हाईस्कूल और दिल्ली के सेंट स्टीफेंस कालेज से पढ़ाई की है. वह विदेश मंत्रालय में भी अहम पदों पर अपनी सेवाएं दे चुके हैं साथ ही पाकिस्तान-अफगानिस्तान-ईरान डिवीजन में भी वह चार साल तक अडिशनल सेक्रेटरी रह चुके हैं. उन्होंने अतिरिक्त सचिव के इस संभाग की अगुवाई की थी. आयोग की एकमात्र महिला सदस्य सरना 1980 बैच की आइआरएस अधिकारी हैं. वे केंद्रीय उत्पाद एवं सीमा शुल्क विभाग (सीबीईसी) की प्रमुख थीं. वही 1982 बैच के अधिकारी रहे गुप्ता निवेश एवं सार्वजनिक संपत्ति प्रबंधन विभाग में सचिव थे. भारतीय विधि सेवा अधिकारी चंद्रा इस साल केंद्रीय विधि सचिव के पद से सेवानिवृत्त हुए. वे वर्ष 2002 और 2004 के बीच तत्कालीन कानून मंत्री अरूण जेटली के निजी सचिव भी रहे हैं.

केंद्र सरकार द्वारा नियुक्त सभी नौकरशाह इस वर्ष सेवानिवृत्त हुए हैं. मुख्य सूचना आयुक्त आर के माथुर और सूचना आयुक्त यशोवर्धन आजाद, श्रीधर आचार्यलु और अमिताभ भट्टाचार्य के हाल ही में सेवानिवृत्त होने के बाद आयोग में सिर्फ तीन सूचना आयुक्त बचे थे, जिसके बाद कार्यकर्ताओं ने इन रिक्तियों के संबंध में उच्चतम न्यायालय का रुख किया था. उच्चतम न्यायालय ने केंद्र और राज्यों को मुख्य सूचना आयुक्त और सूचना आयुक्तों की नियुक्तियों में पारदर्शिता बनाए रखने और खोज समितियों और आवेदकों का विवरण वेबसाइट पर अपलोड करने के लिए कहा था.

केंद्रीय सूचना आयोग (सीआईसी): केंद्रीय सूचना आयोग (सीआईसी) की स्थापना वर्ष 2005 में सूचना के अधिकार अधिनियम के तहत की गयी थी. यदि कोई आवेदक किसी सरकारी विभाग या मंत्रालय से मांगी गई सूचनाओं से संतुष्ट नहीं है या उसे सूचनाएं नहीं दी गईं हैं तो अब उसे केन्द्रीय सूचना आयोग के कार्यालय में भटकने की जरूरत नहीं है. अब वह सीधे सीआईसी में ऑनलाइन द्वितीय अपील या शिकायत कर सकता है. सीआईसी में शिकायत के लिए वेबसाइट http://rti.india.gov.in में दिया गया फार्म भरकर सबमिट पर क्लिक करना होता है. क्लिक करते ही शिकायत या अपील दर्ज हो जाती है.

No comments:

Post a Comment