मासिक करेंट अफेयर्स

20 January 2019

केंद्र सरकार ने मिलिट्री पुलिस में 20 फीसदी महिलाओं को भर्ती करने की घोषणा की

केंद्रीय रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने मिलिट्री पुलिस में 20 फीसदी महिलाओं को भर्ती करने की घोषणा की हैं. रक्षा मंत्री ने कहा कि सेना पुलिस में महिलाओं को चरणबद्ध तरीके से शामिल किया जाएगा. रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने 18 जनवरी 2019 को यह घोषणा की.  उन्होंने मिलिट्री पुलिस में एक जवान के तौर पर महिलाओं को शामिल करने का फैसला लिया है. यह निर्णय सैन्य बलों में महिलाओं के प्रधिनिधित्व को बढ़ाने के मकसद से लिया गया है. भारतीय सेना में अब महिलाओं की भूमिका और बढ़ने वाली है. सेना की मिलिट्री पुलिस में महिलाओं को भर्ती करने के लिए लंबे समय से बहस चल रही थी. रक्षा मंत्री सीतारमण ने इस फैसले को ऐतिहासिक करार दिया. सीतारमण ने कहा की पहली बार कार्मिक निचले अधिकारी रैंक (पीबीओआर) की भूमिका में महिलाओं को शामिल किया जाएगा. जिन भूमिकाओं के लिए महिलाओं को शामिल किया जाएगा, उनमें दुष्कर्म, छेड़छाड़ और चोरी जैसे अपराधों की जांच, भीड़ पर नियंत्रण करने जैसे क्षेत्र शामिल हैं.
 
बताते चलें कि सेना प्रमुख बिपिन रावत ने हाल में कहा था कि सेना की मिलिट्री पुलिस में 800 महिलाओं को शामिल किया जा सकता है. इसके लिए साल के अंत तक भर्ती शुरू हो सकती है. साथ ही आर्मी चीफ ने कहा था कि सेना में महिलाएं कानून, मेडिकल, सिग्नल, इंजीनियरिंग और शिक्षा के क्षेत्रों में पहले से ही है. लेकिन, मिलिट्री पुलिस में भी महिला जवान होनी चाहिए. वर्तमान में महिलाओं को सेना में चिकित्सा, कानून, शिक्षण, सिग्नल तथा इंजीनियरिंग जैसी शाखाओं में जाने का विकल्प मिलता है.

No comments:

Post a Comment