मासिक करेंट अफेयर्स

24 February 2019

उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने कई रेल परियोजनाओं का शुभारम्भ किया

उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने 21 फरवरी 2019 को कई रेल परियोजनाओं का शुभारम्‍भ किया. इनमें वेंकटचलम से वेलीकैल्‍लु और ओबुलावरिपल्ले से चेरलोपल्ली (कृष्णापटनम- ओबुलावरिपल्‍ले रेल लाइन परियोजना का हिस्सा) तक बहुप्रतीक्षित नई रेल लाइन का उद्घाटन शामिल हैं. इस अवसर पर केंद्रीय सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्री थावरचंद गहलोत, केंद्रीय रेल और कोयला मंत्री पीयूष गोयल, आंध्र प्रदेश के नगरपालिका प्रशासन मंत्री पोंगुरु नारायण, आंध्र प्रदेश के कृषि, बागवानी, रेशम कीट-पालन, कृषि संसाधन मंत्री सोमीरेड्डी चंद्रमोहन रेड्डी उपस्थित थे.

उपराष्ट्रपति ने नेल्‍लोर रेलवे स्टेशन का पुनर्विकास और कृष्णापटनम से रापुर स्टेशन तक के सभी रेलवे स्टेशनों पर यात्री सुविधाएं विकसित करने के कार्यों की आधारशिला रखी. यात्री हित की अन्‍य पहलों में नेल्लोर-चेन्नई सेंट्रल एमईएमयू सेवा का शुभारम्‍भ शामिल है. इससे दिन के समय नेल्लोर शहर से चेन्नई तक यात्रा सुविधा उपलब्‍ध होगी. इसके अलावा उपराष्‍ट्रपति ने नेल्लोर, गुंटूर और रेनिगुटां रेलवे स्टेशनों पर उच्च गति की वाई-फाई सेवा भी समर्पित की. उपराष्‍ट्रपति ने अक्कमपेट रेलवे स्टेशन पर नया बुकिंग कार्यालय, तिरुवोट्टियूर रेलवे स्टेशन पर नया फुट ओवर ब्रिज, नया बुकिंग कार्यालय और गुम्मिडिपुंडी में लेवल क्रॉसिंग के बदले नया सब-वे भी समर्पित किया. उपराष्ट्रपति ने तिरुपति रेलवे स्टेशन पर (वीडियो लिंक के जरिए) नवीनतम यात्री सुविधाओं और नेल्लोर दक्षिण रेलवे स्टेशन पर नए फुट ओवर ब्रिज का भी उद्घाटन किया. गुडूर को विजयवाड़ा से जोड़ने के लिए एक नई इंटरसिटी ट्रेन चलाने के उपराष्ट्रपति के सुझाव पर प्रतिक्रिया देते हुए रेलमंत्री पीयूष गोयल ने इस अवसर पर घोषणा की कि शीघ्र ही दिन के समय चलने वाली एक नई रेलगाड़ी शुरू की जाएगी.

ओबुलावरिपल्ले से कृष्णापटनम बंदरगाह तक की नई रेल लाइन बन जाने के बाद दूरी 72 किमी तक कम होगी और माल परिवहन के लिए निर्बाध संपर्कता उपलब्‍ध होगी, क्योंकि यह लाइन वेंकटचलम स्टेशन पर विजयवाड़ा-गुडूर मुख्य लाइन से बंदरगाह को जोड़ती है. क्षेत्र के विकास के लिए कृष्णापटनम बंदरगाह-ओबुलावरिपल्ले लाइन के महत्व की दृष्टि से सबसे पहले यह प्रस्ताव अटल बिहारी वाजपेयी के मंत्रिमंडल में जब नीतीश कुमार रेल मंत्री थे तब रखा था और तब से वे इसके लिए प्रयास कर रहे थे. वेंकटचलम से रापुर तक यात्री सेवा शुरू होने से सात स्टेशनों के यात्रियों की लंबे समय से की जा रही मांग पूरी होगी और कई रेल परियोजनाओं से संपर्कता में काफी सुधार होगा.

No comments:

Post a comment