मासिक करेंट अफेयर्स

12 March 2019

प्रधानमंत्री मोदी और शेख हसीना ने चार परियोजनाओं का उद्घाटन किया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बांग्लादेशी पीएम शेख हसीना ने 11 मार्च 2019 को वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए संयुक्त रूप से बांग्लादेश में चार परियोजनाओं का उद्घाटन किया. इस मौके पर पीएम मोदी के साथ विदेश मंत्री सुषमा स्वराज भी मौजूद थीं. यह कार्यक्रम दोनों देशों के संबंधों को आगे बढ़ाने में सहायक होगा. प्रधानमंत्री मोदी और बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने सड़क परिवहन, स्वास्थ्य और शिक्षा क्षेत्र की चार परियोजनाओं का संयुक्त रूप से उद्घाटन किया. इस अवसर पर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा कि भारत-बंगलादेश संबंधों के इस असाधारण दौर का श्रेय दोनों प्रधानमंत्रियों के विजन और राजनेताओं के रूप में उनकी प्रतिबद्धता को जाता है. दोनों नेताओं की राजनीतिक प्रतिबद्धता के कारण ही दोनों देशों की भागीदारी क्षेत्र में एक आदर्श के रूप में उभरी है और भविष्य में यह और मजबूत होगी.

दोनों नेताओं ने बंगलादेश में इन परियोजनाओं का उद्घाटन किया:
• बसों और ट्रकों की आपूर्ति
• 36 सामुदायिक क्लिनिकों का उद्घाटन
• 11 जल उपचार संयंत्रों का उद्घाटन
• राष्ट्रीय ज्ञान नेटवर्क का विस्तार

ये परियोजनाएं आम आदमी के जीवन से सीधी जुड़ी हैं और उन्हें इनसे फायदा होगा. ये परियोजना इस बात का प्रतीक है कि भारत और बंगलादेश आम लोगों के जीवन का स्तर सुधारने का काम मिलकर कर रहे हैं. दोनों देशों ने सड़क संपर्क बढाने के साथ साथ ज्ञान के क्षेत्र में भी मिलकर काम करने की दिशा में कदम उठाया है. जल उपचार संयंत्र से हजारों घरों को स्वच्छ पेयजल मिलेगा और सामुदायिक क्लिनिक से लाखों लोगों को चिकित्सा की सुविधा मिलेगी. बांग्लादेश सरकार द्वारा वहनीय सार्वजनिक परिवहन प्रदान करने के प्रयासों में सहायक भूमिका अदा करेगी, जल संवर्द्धन संयंत्रों से हज़ारों घरों में शुद्ध पेयजल पहुंचाएंगे और सामुदायिक क्‍लीनिकों से लगभग 2 लाख लोग लाभान्वित होंगे, जिन्हें अपने घरों के पास स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध होंगी.

भारत-बांग्लादेश संबंध: भारत और बांग्लादेश दक्षिण एशियाई पड़ोसी देश हैं और आमतौर पर उन दोनों के बीच संबंध मैत्रीपूर्ण रहे हैं, हालांकि कभी-कभी सीमा विवाद होते हैं. बांग्लादेश की सीमा तीन ओर से भारत द्वारा ही आच्छादित है. ये दोनो देश सार्क, बिम्सटेक, हिंद महासागर तटीय क्षेत्रीय सहयोग संघ और राष्ट्रकुल के सदस्य हैं. विशेष रूप से, बांग्लादेश और पूर्व भारतीय राज्य जैसे पश्चिम बंगाल और त्रिपुरा बंगाली भाषा बोलने वाले प्रांत हैं. वर्ष 1971 में पूर्वी पाकिस्तान और पश्चिमी पाकिस्तान के बिच बांग्लादेश मुक्ति युद्ध शुरु हुआ और भारत ने पूर्वी पाकिस्तान की ओर से दिसंबर 1971 में हस्तक्षेप किया. फलस्वरूप बांग्लादेश राज्य के रूप में पाकिस्तान से पूर्वी पाकिस्तान की स्वतंत्रता को सुरक्षित करने में भारत ने मदद की.

No comments:

Post a Comment