मासिक करेंट अफेयर्स

19 October 2019

पहली बौद्ध सर्किट स्पेशल ट्रेन शुरू: जानें क्या है इसकी खासियत

भारतीय रेलवे ने 19 अक्टूबर से 26 अक्टूबर तक भारत और नेपाल के बीच अपनी पहली बौद्ध सर्किट ट्रेन चलाने की घोषणा की है. ट्रेन यात्रियों को भारत तथा नेपाल दोनों देशों में गौतम बुद्ध के जीवन से जुड़े अहम स्थलों की यात्रा करवाएगी. आईआरसीटीसी के मुताबिक, बौद्ध सर्किट ट्रेन महत्वपूर्ण बौद्ध स्मारकों को कवर करेगी. यह ट्रेन नई दिल्ली के सफदरजंग रेलवे स्टेशन से यात्रियों को लेकर यात्रा शुरू करेगी और गौतम बुद्ध के जीवन से जुड़े स्थलों की यात्रा करवाने के बाद सफदरजंग रेलवे स्टेशन पर ही अपनी यात्रा समाप्त करेगी.

आईआरसीटीसी ने यात्रियों को अंतरराष्ट्रीय मानक अनुभव देने के लिए बौद्ध सर्किट ट्रेन में कई व्यवस्थाएं की हैं. इस ट्रेन में एसी फर्स्ट श्रेणी के डिब्बे के चार कोच में 96 सीटें, एसी द्वितीय श्रेणी के दो कोच की 60 सीटें, 64 लोगों के बैठकर भोजन करने की क्षमता वाले दो विशेष डाइनिंग कार तथा एक पैंट्री कार शामिल है. ट्रेन के प्रत्येक डिब्बे के अंदर एक रीडिंग लाइट होगी, साथ ही हर यात्री के लिए एक इलेक्ट्रॉनिक लॉकर भी होगा. ट्रेन में बेहतर सुरक्षा हेतु पर्सनल डिजिटल लॉकर, फुट मसाजर्स, शॉवर, क्यूबिकल्स, सिंगल सिटिंग सोफा, सीसीटीवी कैमरे, स्मोक डिटेक्शन अलार्म सिस्टम के साथ-साथ अलग से बैठने की जगह भी है. इस ट्रेन में दो डाइनिंग कार, एक किचन कार, एक स्टाफ कार और दो पावर कार है.

बौद्ध सर्किट स्पेशल ट्रेन की यात्रा आठ दिन और सात रातों की होगी. इसके सभी समावेशी पैकेज में रेल यात्रा के साथ लग्जरी होटल में ठहराना, परिवहन, एयर कंडीशन बसों में सभी जगहों पर घुमाना और विभिन्न भाषाओं के टूर गाइड्स की व्यवस्था होगी. यह ट्रेन बुद्ध से जुड़े सभी स्थलों जैसे बुद्ध के जन्मस्थान लुंबिनी, बोधगया जहां उन्हें ज्ञान प्राप्त हुआ, सारनाथ-जहां उन्होंने अपना पहला उपदेश दिया तथा कुशीनगर जहां उन्होंने निर्वाण प्राप्त किया का भ्रमण करायेगी.

आईआरसीटीसी बौद्ध सर्किट टूर पर जाने के इच्छुक पर्यटकों हेतु कई आकर्षक पैकेज भी दे रही है. एसी प्रथम श्रेणी का पैकेज लेने वाले जोड़े को इसके लिए 1,23,900 रुपये देने होंगे, जबकि एसी द्वितीय श्रेणी के पैकेज की कीमत 1,01,430 रुपये होगी. इसके अतिरिक्त पांच साल से कम उम्र के बच्चों को किराए से छूट दी गई है. पांच साल से 12 साल तक के बच्चों से पचास प्रतिशत किराया लिया जायेगा.

No comments:

Post a comment