मासिक करेंट अफेयर्स

10 January 2020

फोर्ब्स पत्रिका के 20 प्रभावशाली लोगों में कन्हैया कुमार और प्रशांत किशोर शामिल

विश्व की प्रतिष्ठित पत्रिका ‘फोर्ब्स’ में कन्हैया कुमार और प्रशांत किशोर को विश्व के टॉप-20 निर्णायक लोगों की सूची में जगह मिली है. फोर्ब्स इंडिया ने हाल ही में इस सूची को प्रकाशित किया था जिसमें राजनेताओं, उद्यमियों, मनोरंजनकर्ताओं तथा खिलाड़ियों के नाम शामिल थे. प्रशांत किशोर और कन्हैया कुमार इस सूची के सबसे बड़े नाम हैं. पत्रिका ने दुनिया के टॉप-20 शक्तिशाली लोगों में कन्हैया कुमार को 12वें स्थान पर और प्रशांत किशोर को 16वें स्थान पर रखा है. कन्हैया कुमार और प्रशांत किशोर के अतिरिक्त पांच भारतीयों को भी इस सूची में जगह मिला है. इस सूची में पहले स्थान पर भारतीय मूल के अमेरिकी राजनीतिक टिप्पणीकार और कॉमेडियन हसन मिन्हाज हैं. इस सूची में 20वें स्थान पर कीनियाई मैराथन धावक एलिउड किपचोगे हैं. 

पत्रिका ने जेएनयू (जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय) छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार और जदयू के रणनीतिकार प्रशांत किशोर को आगामी दशक का निर्णायक चेहरा करार दिया है. फोर्ब्स ने कहा कि दोनों युवा नेता आगामी दशक में प्रमुख भूमिका निभा सकते हैं. कन्हैया कुमार और प्रशांत किशोर के अतिरिक्त, इस सूची में पांच भारतीयों को भी स्थान दिया गया है. ये पांच भारतीय आदित्य मित्तल, गोदरेज परिवार, दुष्यंत चौटाला, महुआ मोइत्रा, गरिमा अरोड़ा हैं. इस सूची पर्यावरण कार्यकर्ता ग्रेटा थनबर्ग को भी जगह मिली है. वे इस सूची में 15वें स्थान पर है. पेशे से शेफ गरिमा अरोड़ा सूची में 14वें स्थान पर हैं. इस सूची में श्रीलंका के राष्ट्रपति गोतबाया राजपक्षे, सऊदी अरब के युवराज मोहम्मद बिन सलमान, न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री जेसिंडा आर्डर्न, फिनलैंड की नई प्रधानमंत्री सना मारिन तथा ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन का भी नाम शामिल है.

फोर्ब्स ने कन्हैया कुमार के बारे में लिखा कि वे भविष्य में भारतीय राजनीति में एक शक्तिशाली पहचान बनाने की कोशिश कर रहे हैं. भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के नेता कन्हैया कुमार जेएनयू में छात्र राजनीति का चेहरा उस समय बन गए, जब उन्होंने साल 2016 में देशद्रोह के आरोपों का जवाब दिया था.

फोर्ब्स ने प्रशांत किशोर के बारे में लिखा कि वे साल 2011 से एक राजनीतिक रणनीतिकार हैं. उन्होंने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को गुजरात विधानसभा चुनाव जीतने में सहायता की. उन्होंने साल 2014 और साल 2019 में नरेंद्र मोदी के लिए रणनीतिक अभियानों में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई. उन्होंने आंध्र प्रदेश चुनाव 2019 में वाईएसआर जगन मोहन रेड्डी और महाराष्ट्र में शिवसेना हेतु भी रणनीतिक अभियानों में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है.

No comments:

Post a comment