मासिक करेंट अफेयर्स

06 January 2020

सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत बने देश के पहले चीफ ऑफ डिफेंस

जनरल बिपिन रावत ने 01 जनवरी 2020 को चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस) का पदभार संभाल लिया. वे अब जल, थल और वायु तीनों सेनाओं के बीच समन्वय का काम करेंगे. बिपिन रावत 31 दिसंबर 2019 को सेना प्रमुख के पद से रिटायर हो गए. बिपिन रावत के रिटायर होने के बाद लेफ्टिनेंट जनरल मनोज मुकुंद नरवणे देश के अगले सेनाध्यक्ष नियुक्त हो गए. केंद्र सरकार ने एक दिन पहले ही CDS पोस्ट के लिए सेना के नियमों में संशोधन कर उम्र की सीमा को बढ़ाकर 65 साल किया था. रक्षा मंत्रालय द्वारा इसकी अधिसूचना जारी की गई थी. सेना प्रमुख जनरल
बिपिन रावत भारतीय सेनाध्यक्ष के तौर पर अपना तीन साल का कार्यकाल पूरा करके 31 दिसंबर 2019 को रिटायर हो रहे हैं. इसके बाद वो चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ का पद संभालेंगे. 62 साल के बिपिन रावत 65 साल की उम्र पूरी होने तक चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (CDS) के पद पर रहेंगे.

तीनों सेनाओं, थल सेना, वायु सेना और भारतीय नौसेना के बीच अच्छे संबंध स्थापित करने हेतु इस पद का गठन किया गया है. सीडीएस देश के सशस्त्र बलों का सर्वोच्च रैंक (तीनों सेनाओं) वाला अधिकारी होता है. सीडीएस तीन सेनाओं का प्रमुख भी होगा तथा एक पांच सितारा सैन्य अधिकारी होगा.सीडीएस तीनों सेनाओं का प्रमुख होगा. इस कारण से उसके पास सैन्य सेवा का लंबा अनुभव एवं उपलब्धियां होनी चाहिए.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 15 अगस्त 2019 को लाल किले की प्राचीर से देश की तीनों सेनाओं के बीच तालमेल को और बेहतर बनाने हेतु चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (CDS) का नया पद बनाने का घोषणा किया था. उसी समय से सबसे सीनियर मिलिट्री कमांडर होने की वजह से मौजूदा सेनाध्यक्ष जनरल बिपिन रावत को देश के पहले CDS बनने के कयास लगाए जा रहे थे.

No comments:

Post a Comment