मासिक करेंट अफेयर्स

08 May 2020

इराक के पूर्व खुफिया प्रमुख मुस्तफा अल- काधेमी ने ली प्रधानमंत्री पद की शपथ

इराक के खुफिया एजेंसी के पूर्व प्रमुख मुस्तफा अल- काधेमी ने 07 मई 2020 को देश के अगले प्रधानमंत्री के तौर पर शपथ ली. दरअसल, पूरी दुनिया इस समय कोरोना संकट से जूझ रही है. इससे पहले ही उनका प्रधानमंत्री पद के लिए नाम नमित किया था. संसद सत्र में 255 सांसदों ने भाग लिया और इराक के प्रधानमंत्री के तौर पर मुस्तफा अल- काधेमी के नाम के प्रस्ताव को मंजूरी दी. इससे देश में पांच महीने से चल रहा नेतृत्व का संकट खत्म हो गया. काधेमी को जब प्रधानमंत्री पद हेतु मनोनीत किया गया था तो उन्होंने खुफिया प्रमुख के पद से इस्तीफा दे दिया था. उन्हें हफ्ते भर की तनावपूर्ण राजनीतिक वार्ताओं के बाद शपथ दिलाई गई है क्योंकि देश को कोरोना वायरस (कोविड-19) महामारी के चलते गंभीर आर्थिक संकट का सामना करना पड़ रहा है. 

इराक में कोरोना वायरस वैश्विक महामारी के कारण पैदा हुए गंभीर आर्थिक संकट के बीच उन्होंने यह जिम्मेदारी संभाली है. उन्होंने ऐसे समय में प्रधानमंत्री पद का कार्यभार संभाला है, जब तेल राजस्व में गिरावट के बीच इराक अभूतपूर्व संकट का सामना कर रहा है. इराक से इस्लामिक स्टेट के शासन के खात्मे में भी उनका महत्वपूर्ण योगदान रहा है. 

इराक में नई सरकार के गठन में दो बार मिली विफलता के बाद राष्ट्रपति बरहम सालेह ने हाल ही में खुफिया विभाग के प्रमुख मुस्तफा काधेमी की प्रधानमंत्री पद पर नियुक्ति की है. पिछले दस हफ्ते में यह पीएम पद पर तीसरी नियुक्ति है. 329 सदस्यों वाली इराकी संसद में ईरान समर्थक नेताओं के बीच काधेमी की अच्छी पैठ मानी जाती है. मुस्तफा काधेमी ने कहा कि यह सरकार सामाजिक आर्थिक और राजनीतिक संकटों के बीच सामने आई है और इसका सामना करेगी. हमारी सरकार ऐसी समस्याओं से निजात दिलाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगी. काधेमी एक स्तंभकार और संपादक भी रहे हैं.

No comments:

Post a comment