मासिक करेंट अफेयर्स

05 June 2020

भारत-ऑस्ट्रेलिया वर्चुअल समिटः दोनों देशों के बीच 7 महत्वपूर्ण समझौते

भारत और ऑस्‍ट्रेलिया के प्रधानमंत्री ने 04 जून 2020 को ऑनलाइन माध्‍यम से द्विपक्षीय संबंधों पर चर्चा की. इस दौरान दोनों देशों ने आपसी संबंधों को और मजबूत बनाने पर जोर दिया. इस वर्चुअल मीट के बाद भारत और ऑस्‍ट्रेलिया के बीच सात अहम समझौतों पर हस्‍ताक्षर हुए, जिनमें से एक एक-दूसरे को अपने सैन्‍य ठिकानों के इस्‍तेमाल की अनुमति देना भी शामिल है. 
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि दोनों देशों के बीच संबंध मजबूत करने का ये सबसे सही समय है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और आस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन के बीच 04 जून 2020 को हुई पहली वर्चुअल समिट में कई मुद्दों पर बात हुई. प्रधानमंत्री मोदी ने भारत-ऑस्ट्रेलिया के रिश्ते को और मजबूत बनाने पर जोर दिया, साथ ही कहा कि विश्व को कोरोना महामारी से निकालने के लिए सभी को एक साथ आने की जरूरत है.

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन के बीच वर्चुअल शिखर वार्ता के बाद दोनों देशों के बीच सात समझौतों पर हस्ताक्षर किए गए. विदेश मंत्रालय के अनुसार, दोनों देशों के बीच जो अहम समझौते हुए हुए हैं, उनमें एक-दूसरे के सैन्य ठिकानों और साजो-सामान तक पहुंच से संबंधित ऐतिहासिक समझौता भी शामिल है. प्रधानमंत्री मोदी और ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री स्‍कॉट मॉरिसन के बीच हुए ऑनलाइन द्विपक्षीय शिखर सम्‍मेलन के बाद जारी संयुक्‍त बयान में कहा गया कि दोनों पक्षों ने साझा रक्षा चुनौतियों का मुकाबला करने के लिए रक्षा सहयोग बढ़ाने और सैन्‍याभ्‍यास सहित अन्‍य गतिविधियों को बढ़ावा देने पर सहमति जताई.

भारत और ऑस्‍ट्रेलिया के बीच हिंद-प्रशांत क्षेत्र में समुद्री सहयोग बढ़ाने पर भी सहमति बनी. बयान में कहा गया है कि दोनों देश संप्रभुता व अंतरराष्‍ट्रीय कानूनों का सम्‍मान करते हुए नियम आधारित समुद्री व्‍यवस्‍था को लेकर प्रतिबद्ध हैं. समुद्री सुरक्षा में भारत और ऑस्‍ट्रेलिया के साझा हितों का हवाला देते हुए दोनों देशों के बीच नौसैनिक सहयोग बढ़ाने पर भी सहमति बनी है. ऑस्‍ट्रेलिया ने एक बार फिर संयुक्‍त राष्‍ट्र सुरक्षा परिषद के विस्‍तार और इसमें भारत की स्‍थाई सदस्‍यता को लेकर अपना समर्थन दोहराया. दोनों देशों ने नागरिक उद्देश्‍यों के लिए परमाणु कार्यक्रम के मुद्दे पर भी द्विपक्षीय सहयोग की बात दोहराई और वैश्विक स्‍तर पर परमाणु अप्रसार को और मजबूत बनाने पर जोर दिया. ऑस्‍ट्रेलिया ने परमाणु आपूर्तिकर्ता समूह (NSG) देशों में भारत की सदस्‍यता को लेकर अपना समर्थन जताया.

प्रधानमंत्री मोदी और ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन पिछले डेढ़ साल के दौरान इससे पहले चार बार मिल चुके हैं. सबसे पहली मुलाकात नवंबर 2018 में सिंगापुर में ईस्ट एशिया समिट के मौके पर, जून 2019 में ओसाका में जी 20 समिट के दौरान, अगस्त 2019 में Biarritz में जी-7 समिट के दौरान और और नवंबर 2019 में बैंकॉक में पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलन के दौरान दोनों की मुलाकात हो चुकी है.

No comments:

Post a comment